अगले 5 सालों में 200 से ज्यादा मैच खेलेगी टीम इंडिया, ICC ने जारी किया फ्यूचर टूर प्रोग्राम

दुबई। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) ने बुधवार को अगले पांच साल यानी 2019 से 2023 के फ्यूचर टूर प्रोग्राम (एफटीपी) जारी कर दिए हैं। इसके तहत मिली जानकारी के मुताबिक, टीम इंडिया पहली विश्व टेस्ट चैंपियनशिप (डब्ल्यूटीसी) की अपनी शुरुआती सीरीज खेलने के लिए वेस्टइंडीज का दौरा करेगी।

आईसीसी ने बताया कि डब्ल्यूटीसी के तहत भारत वेस्टइंडीज में दो टेस्ट सीरीज खेलेगा। 15 जुलाई 2019 से 30 अप्रैल 2021 तक चलने वाली टेस्ट चैंपियनशिप के पहले सत्र में नौ शीर्ष टीमें भाग लेंगी। वेस्टइंडीज सीरीज 2019 मे विश्व कप के बाद खेली जाएगी। इस दौरे में टेस्ट के अलावा भारत मेजबान टीम से तीन वनडे और इतने ही टी-20 भी खेलेगा। भारत इस साल के अंत में वेस्टइंडीज की मेजबानी भी करेगा, जिसमें चार टेस्ट, पांच वनडे और तीन टी-20 खेले जाएंगे।

विश्व चैंपियनशिप में अगला मुकाबला द. अफ्रीका से –

विश्व चैंपियनशिप में भारत का अगला मुकाबला दक्षिण अफ्रीका से होगा, जिसकी वह तीन टेस्ट के लिए मेजबानी करेगा। यह सीरीज अक्टूबर 2019 में होगी, जिसके बाद बांग्लादेश दो टेस्ट और तीन टी-20 खेलने के लिए भारत का दौरा करेगा। चैंपियनशिप में इसके बाद भारत की अगली दो सीरीज 2020-21 में न्यूजीलैंड (दो टेस्ट) और ऑस्ट्रेलिया (चार टेस्ट) में होंगी। इसके बाद वह घरेलू मैदान पर इंग्लैंड के साथ पांच टेस्ट मैच की सीरीज खेलेगा।

माना जा रहा है कि चैंपियनशिप में भारत और पाकिस्तान के बीच मुकाबला नहीं होगा, हालांकि फाइनल में वे एक-दूसरे से भिड़ सकते हैं। भारत इस चैंपियनशिप में कुल 18 टेस्ट खेलेगा, जिसमें से 12 ऑस्ट्रेलिया, दक्षिण अफ्रीका और इंग्लैंड के खिलाफ होंगे।

भारत खेलेगा 200 से अधिक मैच –

इन पांच वर्षों में टीम इंडिया 200 से ज्यादा मैच खेलेगी जोकि किसी भी टीम से अधिक हैं। इस दौरान भारत 102 मैचों की मेजबानी करेगा जिसमें चिर प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान और आयरलैंड को छोड़कर टेस्ट खेलने वाली सभी टीमें भारत का दौरा करेंगी।

वनडे लीग में खेलेंगी 13 टीमें –

विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के साथ ही वनडे लीग में विश्व क्रिकेट लीग चैंपियनशिप की विजेता नीदरलैंड्स के अलावा टेस्ट खेलने वाली सभी 12 टीमें हिस्सा लेंगी। वनडे लीग एक मई 2020 से शुरू होकर 31 मार्च 2022 तक चलेगी। भारत वनडे लीग में अपनी शुरुआत जून 2020 में श्रीलंका दौरे से करेगा। यह लीग 2023 के वनडे विश्व कप में क्वालीफायर का भी काम करेगी। इस लीग में शीर्ष सात में रहने वाली टीमें और मेजबान भारत 2023 विश्व कप के लिए सीधे क्वालीफाई करेंगे।

आईसीसी के मुख्य कार्यकारी डेव रिचर्डसन ने कहा, ‘द्विपक्षीय क्रिकेट शुरू करना नई चुनौती नहीं है, लेकिन इस एफटीपी के जारी होने के साथ, हमारे सदस्यों को एक वास्तविक हल मिला है। इससे दुनिया भर के प्रशंसकों को लगातार क्रिकेट से जुड़े रहने का मौका मिलेगा।’