अब एसी श्रेणी के हर यात्री काे साथ रखना होगा आईडी, एक महीने में जोन में 187 शिकायतें

भोपाल.ट्रेनों के एसी कोच के हर यात्री का आईडी अब चैक किया जाएगा। एक माह में पश्चिम-मध्य रेलवे जोन के अंतर्गत आने वाले भोपाल सहित तीनों मंडलों की ट्रेनों में गलत नाम से 187 यात्री पकड़े गए हैं। देश के विभिन्न जोन के अंतर्गत करीब 3500 ऐसे यात्री पकड़े गए हैं। कई यात्री एक ही पीएनआर पर यात्रा करते हैं और उनमें से एक का आईडी लेकर वे चलते हैं। अब ऐसा नहीं हो सकेगा, एक पीएनआर पर यात्रा करने वाले हर यात्री का आईडी चैक किया जाएगा। नई नए टाइम-टेबल के साथ ही एक नवंबर से सभी ट्रेनों में जरूरी किया जा रहा है।
दिसंबर अंत से स्लीपर श्रेणी
– रेल अधिकारियों के मुताबिक दिसंबर अंत से ट्रेनों की स्लीपर श्रेणी में भी हर यात्री का आईडी चैक किया जाने लगेगा।
– नवंबर में विभिन्न जोन के अंतर्गत कार्यरत चैकिंग स्टाफ को एडजस्ट करने के बाद यह नियम स्लीपर श्रेणी में भी लागू कर दिया जाएगा।
रेवांचल समेत आठ ट्रेनों में मिली हैं ऐसी शिकायतें
– पश्चिम-मध्य रेलवे जोन के अंतर्गत आने वाले विभिन्न रेल मंडलों से मिली शिकायतों के बाद नए सिस्टम को जरूरी किया जा रहा है। पिछले तीन महीनों के दौरान सिस्टम का ट्रायल किया गया और अब उसे जरूरी किया जा रहा है।
– भोपाल रेल मंडल से चलने वाली रेवांचल, अमरकंटक सहित पश्चिम-मध्य रेलवे की 8 ट्रेनों में इस तरह की शिकायतें मिली थीं। इनमें की गई चैकिंग दौरान यात्री गलत नाम से सफर करते पाए गए। इसके बाद रेल मंत्रालय को फीडबैक भेज दिया गया।