इस बार फ‍िर पानी-पानी होगी मायानगरी, मानसून आने से पहले सहमी मुंबई, मौसम विभाग का अलर्ट

महाराष्‍ट्र में मानसून पूर्व भारी बारिश के बीच मौसम विभाग का दावा है कि दक्षिण पश्चिम मानसून मुंबई, गोवा और महाराष्ट्र के हिस्सों में सात जून तक पहुंच सकता है। मौसम विभाग और निजी मौसम एजेंसी स्काईमेट ने छह से 10 जून के बीच मुंबई व आस-पास के क्षेत्रों में भारी बारिश होने की चेतावनी दी है। मछुआरों को गहरे समुद्र में नहीं जाने की सलाह दी है। आंशका जताई जा रही है कि मुंबई में 26 जुलाई 2005 की बाढ़ जैसी स्थिति बन सकती है।

मौसम विभाग का कहना है कि मुंबई, दहाणु, ठाणे, रत्नागिरी व सिंधुदुर्ग में बेहद भारी हो सकती है। वहीं 10-11 जून से सूरत, वलसाड़ व आसपास के दक्षिण गुजरात के जिलों में भारी बारिश की आशंका जताई जा रही है। उधर, मुंबई में तेज हवा के साथ हुई बारिश के कारण जनजीवन पूरी तरह से प्रभावित है। महाराष्‍ट्र में मानसून पूर्व भारी बारिश के कारण प्रदेश में 13 लोगों की जानें जा चुकी हैं।

महाराष्‍ट्र में इस बारिश का असर रेल और विमान सेवाओं पर भी पड़ रहा है। पश्चिम एवं मध्य रेलवे की कई गाडि़याें का परिचालन भी प्रभावित हुआ है। कई ट्रेनें विलंब से चल रही हैं। मुंबई हवाई अड्डा भी इसकी चपेट में है। विमानों के उड़ानों पर भी इसका प्रभाव पड़ा है। 18 विमानों का मार्ग परिवर्तित करना पड़ा है। कई ने देर से उड़ान भरी।

मानसून की दस्‍तक

– भारी बारिश के कारण पिछले 72 घंटों के दौरान महाराष्ट्र में 13 लोगों की जान गई है।

– केरल, तटीय कर्नाटक, मुंबई व गोवा सहित कोंकण क्षेत्र में ‘भारी बारिश’ की चेतावनी

– तमिलनाडु व बंगाल की खाड़ी के दक्षिण पश्चिम व पूर्वोत्तर के राज्यों की ओर बढ़ा मानसून।

– मौसम विभाग ने 10 जून के बाद देश के कई इलाकों में बाढ़ की आशंका जाहिर की है।