ईद पर दिल्ली, लखनऊ और हैदराबाद की इन जगहों पर खा सकते हैं लजीज पकवान

ईद पर लोग चाहें किसी भी शहर में हो अपने परिवारवालों के साथ ईद मनाने के लिए वापस अपने घर लौट जाते हैं। घर में तरह-तरह के पकवान और परिवारवालों के साथ वक्त बिताने की बात ही कुछ ओर है। लेकिन कई लोग ऐसे भी हैं, जो किसी खास जगह पर जाकर वहां पर ईद के जायको का मजा लेते हैं। अगर आप भी उन लोगों में से एक हैं, तो आइए, आपको सैर कराते हैं दिल्ली, लखनऊ और हैदराबाद की पकवान गलियों में।

दिल्ली में कई इलाके ऐसे हैं, जो अपने खास जायकों के लिए जानी जाती है। खासकर पुरानी दिल्ली चांदनी चौक में आपको खाने-पीने के कई ऑप्शन मिल जाएंगे। तो अगर आप कुछ खास जायकों को चखना चाहते हैं, तो आप दिल्ली का रूख कर सकते हैं। यहां आपको खाने-पीने के बहुत ऑप्शन मिलेंगे।

अगर आप सूफी स्टाइल रेस्टोरेंट में मुगलई और अफगानी जायकों का मजा लेना चाहते हैं तो आप हौज खास विलेज में जाकर कबाब, रास चिकन, रास चिकन टिक्का, कश्मीरी गुच्ची, शोरबा और लाहौरी मटन का स्वाद ले सकते हैं। वहीं आप चांदनी में परांठेवाली गली में और जामा मस्जिद बाजार में जाकर वेज और नॉनवेज जायजों का मजा ले सकते हैं।

नवाबों का शहर लखनऊ अपने शाही अंदाज और नजाकत के लिए मशहूर है। साथ ही लखनऊ के जायकों के लिए दीवानगी भी कम नहीं है। आप लखनऊ में ईद की रौनक आसानी से देख सकते हैं।

लखनऊ का रोटी बाजार अपने यहां की खास तरह की रोटियों और बिरयानी के लिए मशहूर है।

अकबरी गेट से नक्खास चौकी के पीछे तक यह बाजार है, जहां फुटकर और सैकड़े के हिसाब से शीरमाल, नान, खमीरी रोटी, रूमाली रोटी, कुल्चा, लच्छा परांठा, धनिया रोटी और तंदूरी परांठा जैसी कई अन्य तरह की रोटियां मिलती हैं।

इसके अलावा आप अमीनाबाजार, हजरतगंज चौक के आसपास कबाब, बिरयानी, नाहरी का मजा भी ले सकते हैं। वहीं कबाब के लिए आपको टुंडे कबाबी का रूख करना होगा।

निजामों का शहर हैदराबाद अपने कल्चर और खाने-पीने के पकवानों के लिए जाना जाता है। हैदराबाद की सैर करते-करते आपको यहां के मशहूर व्यंजनों की मदहोश करने वाली खुशबू शहर के किसी न किसी कोने से आपको जरूर मिल जाएगी और आप अपना रुख उसी ओर करते दिखाई देंगे।

निजामों के इस शहर हैदराबाद में अन्य मुगलई व्यंजन भी हैं, जिनके जायके आपको यहीं मिलेंगे। हांडी का गोश्त, काली मिर्च का मुर्ग, जाली के कबाब, सीक व शामी कबाबों का जायका लेने लोग दूर-दूर से यहां आते हैं। गोश्त के साथ रुमाली या तंदूरी रोटी खाना आम है, पर खमीरी शीरमल के साथ गोश्त का मजा बिलकुल अलग होता है।

आप यहां पर चारमीनार रोड़ के पास हैदराबादी बिरयानी, बोटी कबाब, गोश्त पसंदा जैसे जायकों का मजा ले सकते हैं। आपको यहां के रेस्टोरेंट के साथ स्ट्रीट फूड के जायकों में भी खास बात लगेगी।