ऋण जमा नही हो पाने से किसानों का फूटा गुस्सा, जाम लगाया

कोटा

ग्राम सेवा सहकारी समितियों से लिए फसली ऋण की राशि जमा कराने में हो रही परेशानी को लेकर सोमवार को किसानों का गुस्सा फूट पड़ा। कोटा सेन्ट्रल को-ऑपरेटिव बैंक के बाहर किसानों ने करीब डेढ़ घंटे तक प्रदर्शन किया तथा करीब एक घंटे तक जाम लगा दिया। सूचना पर उप जिला कलक्टर एसडी मीणा व थानाधिकारी मौके पर पहुंचे। उन्होंने ऋण जमा कराने के लिए काउंटरों की संख्या बढ़ाकर किसानों को राहत दी। इसके बाद किसानों ने जाम हटाया। देर रात तक बैंक में राशि जमा करवाने की कार्रवाई जारी थी।जानकारी के अनुसार सहकारी व्यवस्थापकों की हड़ताल के कारण बैंक में ऋण राशि जमा कराने की व्यवस्था की गई है लेकिन वहां किसानों को घंटों इंतजार करना पड़ता है। कतार में खड़े रहने के बावजूद किसानों को निराश लौटना पड़ता है।क्षेत्र में 19 ग्राम सेवा सहकारी समितियों से करीब साढ़े छह हजार किसान जुड़े हुए हैं। किसान 31 मार्च से पहले बिना ब्याज वाली सरकार की स्कीम में ऋण चुकाना चाहता है। बैंक में राशि जमा करने के लिए तीन काउन्टर लगाए हैं। किसानों की संख्या को देखते हुए काउंटर नाकाफी हैं।

Leave a Reply