एमपी किसान आंदोलन में पुलिस की पिटाई के वायरल वीडियो का ये है सच

मध्यप्रदेश में किसान आंदोलन के दौरान किसानों द्वारा पुलिस की पिटाई के वायरल वीडियो का नया सच सामने आया है। दरअसल जो ‌वीडियो किसान आंदोलन के नाम पर वायरल किया गया वह किसान आंदोलन का है ही नहीं। वह वीडियो एमपी से काफी दूर यूपी के फिरोजाबाद जिले का है।
बता दें कि मध्य प्रदेश में किसानों का आंदोलन बड़ा रूप ले चुका है। वहां हिंसा के बाद गोलीबारी में छह किसानों की भी मौत हो गई। इधर आंदोलन के दौरान किसानों द्वारा पुलिस की पिटाई का एक वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। हालांकि बाद में जब जांच की गई तो पता चला ये वीडियो करीब पांच साल पुराना है।
बताया गया है कि जो वीडियो इन दिनों सोशल मीडिया और टीवी चैनलों पर वायरल हो रहा है वह वीडियो फिरोजाबाद का है और उसमें दिखाई जा रही पुलिस यूपी की है। यह फिरोजाबाद का एक मामला था जिसमें लोगों ने एक दरोगा के साथ हाथापाई की।
मामला यह है कि तीन नवंबर 2012 को फिरोजाबाद पुलिस ने जीशान नाम के लुटेरे को पकड़ कर जेल भेजा था। चार नवंबर २०१२ को सुबह ही जेल में जीशान की मौत हो गई थी। जीशान के परिवारीजनों ने पुलिस की पिटाई की और जीशान की मौत का आरोप लगाते हुए पोस्टमार्टम के दौरान जिला अस्पताल में जमकर बवाल किया था।
इस दौरान जिला अस्पताल परिसर में पोस्टमार्टम गृह के बाहर दरोगा की जमकर पिटाई की थी। यह उसी समय का वीडियो है जो किसान आंदोलन के दौरान मध्य प्रदेश पुलिस की पिटाई करते हुए सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।