ओवरटाइम से हार्टअटैक? इस देश ने उठाया गंभीर कदम

जापान में ओवरवर्क की वजह से कई लोगों की मौत की खबरें सामने आती रहती हैं। ज्यादा काम के चलते कुछ हार्ट अटैक की वजह से तो कुछ इससे परेशान होकर आत्महत्या कर लेते हैं। इसी को लेकर जापान ने एक योजना बनाई है जिसे आलोचकों ने अस्वीकार किया है। ओवरवर्क की वजह से हो रहीं मौतों के चलते टोक्यो ने राष्ट्रीय स्वास्थ्य संकट कम करने का आदेश दिया।

नंबर वन बनने के लिए छोड़ दें ये 5 आदतें

जापान की एक बड़ी कंपनी में महीने में 100 घंटों से भी ज्यादा ओवरटाइम कर रहे एक कर्मचारी की मृत्यु हो गई थी जिसके बाद वहां के लोगों ने सरकार से इसका उपाय निकालने की बात की। उन्होंने बताया कि ओवर वर्क की वजह से लोगों की स्ट्रोक, हार्ट अटैक की वजह से मौत हो रही है। यहां तक कि कुछ लोग सुसाइड तक कर रहे हैं। इसी के चलते वहां के प्रधानमंत्री शिंजो एब ने एक पैनल गठित किया। यहां उन्होंने एक महीने में 100 घंटे ओवरटाइम की योजना लोगों को बताई।

गर्मियों में रहना है कूल तो मोबाइल की कीमत में खरीदें ये AC

जापान के एक नेता ने इसे ऐतिहासिक बताया और कहा कि ये जापान के कर्मचारियों के लिए उठाया गया ये एक बड़ा कदम है। जापान के लेबर एसोसिएशन ने इस योजना को गलत बताया और कहा कि इसे सपोर्ट करना नामुमकिन है।

वहीं ओवरवर्क की वजह से जिन लोगों की मौत हुई है उनके परिवार के हेड ने भी इस योजना का समर्थन नहीं किया और कहा कि वे इसे कतई भी स्वीकार नहीं करेंगे। उन्होंने कहा कि सरकार इस मुद्दे को निपटाना जरूर चाहती है लेकिन ये कदम सही नहीं है। आगे बढ़ने की बजाय ये लोगों को और भी पीछे को ओर ले जाएगा।

 

Leave a Reply