कश्मीर में हुई पत्थरबाज़ी की घटनाये कम

जम्मू और कश्मीर के हालातों पर आर्मी चीफ जनरल बिपिन रावत ने कहा कि पत्थरबाजी की घटनाओं में कमी आई है। उन्होंने आर्मी, बीएसएफ, सीआरपीएफ और जम्मू-कश्मीर पुलिस के साथ मिलकर काम करने की बात भी कही है।
रावत ने कहा कि सेना में हथियारों की कमी नहीं है, बल्कि हथियारों के आधुनिकीकरण पर काम किया जा रहा है। रावत ने कहा कि उनकी ओर से कोशिश की जा रही है कि आर्मी में नई तकनीकों का इस्तेमाल बढ़-चढ़कर हो सके।
इस बीच फिल्ड मार्शल केएम कारिप्पा को भारत रत्न दिए जाने वाले सवालों पर जवाब भी दिया। उन्होंने कहा कि ये फैसला सरकार के ऊपर निर्भर करता है और जो भी फैसला लिया जाएगा वह स्वीकार योग्य होगा।
हालांकि, उन्होंने कश्मीर समस्या पर यह भी कहा कि रातों-रात बदलाव नहीं आ सकता। सरकार, सुरक्षा एजेंसिया और राज्य प्रशासन हर कोशिश कर रहे है और इसी तरह साथ मिलकर काम किया तो चीजों में बदलाव जरूर आएगा। उन्होंने कहा कि कश्मीर की हर मूवमेंट पर सेना अलर्ट है।