कुलभूषण जाधव मामले में गृहमंत्री जी का संसद में बड़ा बयान…

आज  28 दिसंबर को विदेश मंत्री सुषमा स्वराज पाकिस्तान की जेल में बंद भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव के मामले में संसद में बयान देंगी। कुलभूषण जाधव की मां और पत्नी के साथ पाकिस्तान में हुए व्यवहार को लेकर पूरे देश में गुस्से का माहौल है। इस मुद्दे पर भारत और पाकिस्तान के बीच भी बयानबाजी जारी है। इस बीच, यह मुद्दा संसद में भी गरमाया हुआ है। वही पर बता दे की विपक्ष पूरी तरह से एक जुट हो गया हैं |विपक्षी पार्टी ने कहा कि राज्यसभा में जारी गतिरोध खत्म करने के लिए यह मामला काफी ‘‘अहम’’ है।

बीते 15 दिसंबर को संसद का शीतकालीन सत्र शुरू होने के बाद से ही राज्यसभा की कार्यवाही ठीक तरीके से नहीं चल सकी है । विपक्ष प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी  की ओर से पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के खिलाफ की गई एक टिप्पणी के मुद्दे पर विरोध स्वरूप सदन की कार्यवाही बाधित कर रहा है। कांग्रेस नेता ने जाधव की मां और पत्नी को कपड़े बदलने, बिंदी हटाने और मंगल सूत्र एवं जूते उतारने के लिए मजबूर करने पर पाकिस्तान की कड़ी निंदा  की सुषमा स्वराज  जी सुबह 11 बजें संसद ने दोनों सदनों में बारी-बारी से पूरे मामले को लेकर सरकार की बात रखेंगी। इससे पहले बुधवार को लोकसभा में यह मुद्दा गर्माया रहा। मुलाकात से पहले जाधव की मां और पत्नी के मंगलसूत्र, बिंदी और चूड़ियां उतारने को लेकर सांसदों ने पार्टी लाइन से ऊपर उठकर पाकिस्तान के रवैये की निंदा की और सरकार से जवाब मांगा।भारत सरकार पहले ही जाधव के परिवार के साथ हुए व्यवहार को लेकर सख्त प्रतिक्रिया जता चुका है। भारत ने इस पूरे मुलाकात को ही आंखों में धूल झोंकने वाला करार दिया है। जाधव की मां और पत्नी से सुरक्षा के नाम पर बिंदी और मंगलसूत्र उतरवाने को भारत ने सांस्कृतिक व धार्मिक भावनाओं की अवहेलना माना है।