केदारनाथ धाम में कपाट बंद होने पर हुआ कुछ ऐसा के लोग आश्चर्य में आ गए

दरअसल, केदारनाथ में कपाट बंद होने के बाद पुलिस के जवानों ने डेढ़ कुंतल आलू जमीन से खोदकर निकाले। इतनी ऊंचाई पर आलू की खेती देखकर हर कोई हैरान रह गया।

 

केदारनाथ में पुलिस ने 3 मई को कपाट खुलने से कुछ दिन पहले ही यहां आकर खेती शुरु की थी। लेकिन बारिश के कारण वहां आलू उगना असंभव लग रहा था। वहीं जब बाबा केदार की डोली रवाना हुई तो पुलिसकर्मियों ने खेत को खोदना शुरु किया।

 

इसके बाद वहां से एक कुंतल आलू निकले। इतनी तादाद में आलू देखकर पुलिसकर्मी भी यकीन नहीं कर पाए कि इतनी ऊंचाई पर भी इतनी अच्छी खेती हो सकती है।

 

मीडिया सूत्रों के मुताबिक, आलू को छोटे-छोटे कट्टों में रखकर पुलिसकर्मी स्वयं अपने कंधों पर रखकर गौरीकुंड लाए जहां से इसके प्रसाद के रूप में अफसरों के साथ अपने जानने वालों को दिया गया।

 

केदारनाथ पुलिस ने डीएम मंगेश घिल्डियाल और एसपी पीएन मीणा को प्रसाद के रूप में 1-1 किलो आलू दिया है। दोनों अफसरों ने भी केदारनाथ में पुलिस द्वारा मेहनत से तैयार किए गए आलू को स्वीकार किया।

 

पुलिस ने साबित कर दिखाया है कि केदारनाथ में आलू के साथ ही कई और सब्जियां उग सकती है।  पुलिस ने आलू के साथ ही मूली और हरी सब्जियां भी केदारनाथ में उगाने में सफलता पाई है।