कैलास मानसरोवर यात्रा पर गए 1575 तीर्थयात्रियों में से 104 को निकाला

नई दिल्ली। कैलाश मानसरोवर की यात्रा पर गए तीर्थयात्रियों के नेपाल में फंसने की खबर है। जानकारी के अनुसार नेपाल, हिलसा और तिब्बत साइड पर 1500 से ज्यादा यात्री फंसे हुए हैं जिन्हें निकालने के लिए विमान पहुंचे हैं। सिमकोट से अब तक 104 यात्रियों को निकाल लिया गया है।

फंसे हुए यात्रियों में कर्नाटक से कैलास मानसरोवर यात्रा पर गए 290 तीर्थयात्री भी शामिल हैं जो नेपाल के सिमकोट में फंसे हुए हैं। सभी तीर्थयात्री सुरक्षित हैं, लेकिन प्रदेश सरकार ने नेपाल के दूतावास से मदद मांगी है।

नेपाल में स्थित भारतीय दूतावास लगातार नेपाल सरकार से संपर्क में बना हुआ है और इन यात्रियों को निकालने की कोशिशें जारी हैं। दूतावास के अनुसार सिमकोट में 525 तीर्थयात्री, हिलसा में 550 तीर्थयात्री और तिब्बत की तरफ 500 तीर्थयात्री फंसे हुए हैं।

दूतावास ने अपने बयान में कहा है कि मिशन ने सभी टूर ऑपरेटर्स से अपील की है कि वो सभी तीर्थयात्रियों को तिब्बत की तरफ रोके रखें क्योंकि नेपाल की तरफ मेडिकल व अन्य सुविधाएं पर्याप्त नहीं हैं।

साथ ही टूर ऑपरेटर्स से यह भी कहा गया है कि वो पहली प्राथमिकता से हिलसा में फंसे यात्रियों को निकालें क्योंकि वो एक बेहद दुर्गम इलाका है। मिशन नेपाल में आर्मी चॉपर सेवा की मदद लेने की कोशिश भी कर रहा है जो इस तरह के दुर्गम इलाकों में जाने के लिए ज्यादा सक्षम है।

कर्नाटक सरकार भी संपर्क में –

इमरजेंसी ऑपरेशन सेंटर (ईओसी) और प्रदेश का आपात प्रबंधन विभाग संभाल रहे राजस्व विभाग ने सबसे पहले ट्वीट कर तीर्थयात्रियों के फंसे होने की जानकारी दी थी। हालांकि बाद में कहा कि सभी सुरक्षित हैं और उनसे संपर्क बना हुआ है।

ईओसी ने ट्वीट कर बताया कि खराब मौसम के चलते नेपालगंज और सिमिकोट के बीच हेलीकॉप्टर सेवा प्रभावित होने से तीर्थयात्री फंस गए हैं।

गौरतलब है कि इससे पहले मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी ने नई दिल्ली स्थित कर्नाटक भवन के स्थानीय कमिश्नर को तीर्थयात्रियों की सुरक्षा के लिए सभी जरूरी कदम उठाने के निर्देश दिए थे।

मुख्यमंत्री कार्यालय से जारी बयान के अनुसार यात्रियों को निकालने के लिए राज्य सरकार लगातार नेपाल में भारतीय दूतावास के संपर्क में हैं। यात्रियों को अन्य रास्तों से निकाले जाने की विकल्प तलाशे जा रहे हैं।

जारी किए हेल्पलाइन नंबर –

नेपाल स्थित भारतीय दूतवास ने तीर्थयात्रियों और उनके परिवारों की मदद के लिए हेल्पलाइन नंबर जारी किए हैं।

यह हैं हेल्पलाइन नंबर –

+977-9851107006

+977-9851155007

+977-9851107021

+977-9818832398

स्थानीय भाषाओं में जानकारी के लिए नंबर –

Kannada- +977-9823672371

Telugu- +977-9808082292

Tamil- +977-9808500642

Malayalam- +977-9808500644