कॉल पर पता चला कि दुल्‍हन तो 13 साल की है

 बाल सुरक्षा समिति के सदस्य द्वारा की गई एक कॉल से 13 साल की बच्ची का 27 साल के युवक के साथ हो रहा विवाह टल गया। समझाइश के बाद बच्ची के परिजनों ने 18 वर्ष की होने पर ही लड़की की शादी करने का भरोसा शपथ पत्र देकर जताया है। घटना ऐशबाग क्षेत्र में शनिवार को हुई।

चाइल्ड लाइन के प्रोजेक्ट अफसर अमरजीत ने बताया कि दोपहर में फोन पर सूचना मिली, कि बाग फरहतआफजा में बाल विवाह हो रहा है। इस आधार पर टीम ऐशबाग पुलिस के साथ मौके पर पहुंची। सबूत के तौर पर आधार कार्ड देखा गया। उसमें लड़की का जन्म वर्ष 2004 दर्ज था।

उधर दूल्हे की उम्र 27 वर्ष थी। चाइल्ड लाइन और पुलिस की संयुक्त समझाइश पर परिवार के लोगों ने अभी निकाह नहीं करने की सहमति जताई। आपसी रिश्तेदारी में हो रहे इस रिश्ते में लड़के ने बताया कि उसे भी पता नहीं था,कि लड़की की उम्र इतनी कम है।

परिवार के लोगों ने शपथ देकर वादा किया है,कि वे बेटी का निकाह 18 वर्ष की होने पर ही करेंगे। गौरतलब है कि चाइल्ड लाइन ने शहर के विभिन्ना क्षेत्रों में बाल सुरक्षा समिति का गठन किया है। समिति के सदस्य बच्चों के साथ हो रहे किसी भी अन्याय की सूचना तत्काल चाइल्ड लाइन और स्थानीय पुलिस को देते हैं।