कोरिया : बोनस तिहार में पटना सहकारी समिति के 1117 किसानों को मिलेगी सबसे अधिक धान बोनस राशि

कलेक्टर श्री नरेंद्र कुमार दुग्गा ने आज यहां बताया कि जिला मुख्यालय स्थित रामानुज मिनी स्टेडियम में 9 अक्टूबर को आयाजित बोनस तिहार में आदिम जाति सेवा सहकारी समिति पटना के 1 हजार 117 किसानों को सबसे अधिक 2 करोड़ 3 लाख रूपये की राषि बोनस के रूप में मिलेगी। बोनस तिहार में प्रदेष के श्रम, खेल एवं युवा कल्याण मंत्री श्री भईयालाल राजवाडे और गृह, जेल एवं लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी मंत्री श्री राम सेवक पैकरा बोनस राषि का वितरण करेंगे।
कलेक्टर श्री दुग्गा ने बताया कि आदिम जाति सेवा सहकारी समिति केल्हारी के 578 किसानों को 1 करोड़ 7 लाख 18 हजार, आदिम जाति सेवा सहकारी समिति कोटाडोल के 81 किसानों को 9 लाख़, आदिम जाति सेवा सहकारी समिति कोड़ा के 303 किसानों को 42 लाख 12 हजार, आदिम जाति सेवा सहकारी समिति खडगवां के 660 किसानों को 88 लाख 95 हजार, आदिम जाति सेवा सहकारी समिति गढवार के 158 किसानों को 20 लाख 35 हजार, आदिम जाति सेवा सहकारी समिति घुटरा के 261 किसानों को 35 लाख 37 हजार, आदिम जाति सेवा सहकारी समिति चैनपुर के 363 किसानों को 43 लाख 96 हजार, आदिम जाति सेवा सहकारी समिति चिरमी के 324 किसानों को 47 लाख 35 हजार, आदिम जाति सेवा सहकारी समिति छिंदडांड के 692 किसानों को 1 करोड़ 12 लाख 87 हजार, आदिम जाति सेवा सहकारी समिति जनकपुर के 289 किसानों को 48 लाख 29 हजार, आदिम जाति सेवा सहकारी समिति जिल्दा के 710 किसानों को 1 करोड़ 50 लाख 5 हजार और आदिम जाति सेवा सहकारी समिति धौराटिकरा के 1 हजार 70 किसानों को 1 करोड़ 83 लाख 53 हजार रूपये की राषि बोनस के रूप में दी जायेगी।
इसी तरह आदिम जाति सेवा सहकारी समिति गिरजापुर के 575 किसानों को 1 करोड़ 8 लाख 94 हजार, आदिम जाति सेवा सहकारी समिति पोंडी के 650 किसानों को 1 करोड़ 8 लाख 42 हजार, आदिम जाति सेवा सहकारी समिति बरबसपुर के 508 किसानों को 67 लाख 80 हजार, आदिम जाति सेवा सहकारी समिति माडीसरई के 647 किसानों को 1 करोड़ 4 लाख 40 हजार, आदिम जाति सेवा सहकारी समिति रजौली के 489 किसानों को 70 लाख 14 हजार, आदिम जाति सेवा सहकारी समिति सरभोका के 973 किसानों को 1 करोड़ 55 लाख 11 हजार और आदिम जाति सेवा सहकारी समिति सोनहत के 599 किसानों को 1 करोड़ 4 लाख 87 हजार रूपये की राषि बोनस के रूप में दी जायेगी।