खुद को धर्मगुरु मानने वाली राधे मां एक बार फिर विवादों में हैं,SHO की कुर्सी पर जा बैठीं, पुलिस नतमस्तक

खुद को धर्मगुरु मानने वाली राधे मां एक बार फिर विवादों में हैं। इस बार विवादों की वजह एक तस्वीर है, जिसमे राधे मां कानून का मजाक बनाती नजर आ रही हैं। हैरानी की बात तो ये है कि खुद पुलिस वाले इस काम में उनकी मदद करते देखे जा सकते हैं।मामला दिल्ली के विवेक विहार थाने का है, जहां विवादास्पद धर्मगुरु राधे मां एसएचओ की कुर्सी पर विराजमान दिख रही हैं। कमरे में कुछ पुलिस वाले भी भक्त की मुद्रा में नजर आ रहे हैं। हद तो तब हो जाती है जब थाने के अंदर जुटी भक्तों की भीड़ के साथ पुलिस वाले भी राधे मां की जय-जयकार करते नजर आते हैं। तस्वीर को देखकर ये अंदाजा लगा पाना मुश्किल है कि ये वाकई पुलिस थाना है या राधे मां का दरबार। खाकी वर्दी की इज्जत से बेपरवाह एसएचओ संजय शर्मा भक्त की मुद्रा में हाथ जोड़े नजर आ रहे हैं। उन्होंने वर्दी के ऊपर मातारानी की चुनरी भी डाल रखी है। सूत्रों के अनुसार दिल्ली पुलिस पूरे मामले के सामने आने के बाद सख्त तेवर अपनाते हुए जांच करेगी।
Delhi Police has initiated an inquiry into the incident where Radhe Ma is seen sitting on SHO’s chair at Vivek vihar PS: Sources राधे मां के आने की खबर लगते ही थाने के भीतर और बाहर भक्तों की कतार लग गई। समाचार एजेंसी एनआई में प्रकाशित ये तस्वीर कब की है, इसकी पुष्टि नहीं हो सकी है। आपको बता दें कि विवादित धर्म गुरु राधे मां दहेज उत्पीड़न, यौन उत्पीड़न और धमकाने समेत कई तरह आरोपों से घिरी हुई है।
राधे मां फर्जी संत घोषित डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख गुरमीत राम रहीम के जेल जाने के बाद संतों की एक संस्था ने बकायदा बैठक कर देशभर के फर्जी बाबाओं की लिस्ट जारी की थी। राधे मां का नाम भी फर्जी संतों की इस सूची में शामिल था।
ऐसे में पुलिस स्टेशन जैसी जगहों पर राधे मां जैसी स्वयंघोषित धर्मगुरुओं का पहुंचना वाकई चिंताजनक है।