खुशखबरी: रेलयात्रियों को मिलेगी वेटिंग टिकट से मुक्ति, 1 जुलाई से बदलेंगे नियम

नई दिल्ली: ट्रेन यात्रा को लेकर रेलवे के नियमें में बड़ा बदलाव होने जा रहा है. 1 जुलाई से भारतीय रेलवे अपने नियमों में कई बदलाव करने जा रही है.

ये बदलाव तत्काल टिकट, तत्काल टिकट के समय, वेटिंग टिकट आदि के संबध में हैं.

एक निगाह 1 जुलाई से होने वाले बदलावों पर-

वेटिंग टिकट से मिलेगी मुक्ति

रेलवे ने लोगों की यात्रा को और अधिक आरामदायक बनाने के लिए एक और बड़ा फैसला लिया है. 1 जुलाई से आपको वेटिंग लिस्ट का टिकट नहीं मिलेगा.

रेलवे ने फैसला किया है कि अब लोगों को सिर्फ कंफर्म टिकट दिया जाएगा या फिर आरएसी टिकट दिया जाएगा. वेटिंग लिस्ट के टिकट के झंझट से अब मुक्ति मिल जाएगी.

बदलेगा तत्काल टिकट बुकिंग का समय

तत्काल टिकट बुकिंग का समय भी बदलेगा एसी कोच के लिए तत्काल टिकट बुक करने के समय में भी बदलाव कर दिया गया है.

1 जुलाई के बाद अगर आप एसी कोच के लिए तत्काल टिकट बुक करना चाहते हैं तो फिर आपको सुबह 10 बजे से 11 बजे के बीच में ही टिकट बुक करना होगा.

और पढ़ें:खुशखबरी! बुक करें रेल टिकट आज और पेमेंट करें 14 दिन बाद

वहीं दूसरी ओर स्लीपर कोच के लिए तत्काल टिकट बुक करने का समय पहले जैसा ही यानी सुबह 11 बजे से दोपहर 12 बजे तक रहेगा.

तत्काल टिकट कैंसिल पर 50 फीसदी रिफंड मिलेगा 

अभी तत्काल टिकट कैंसिल करवाने पर कोई रिफंड नहीं मिलता है. लेकिन 1 जुलाई से रेलवे के नियमों में बदलाव के बाद तत्काल टिकट कैंसिल करवाने पर 50 फीसदी का रिफंड मिलेगा.

ये भी पढ़ें:Zee जानकारी : पहली बार आम बजट के साथ पेश हुआ रेल बजट

साथ ही सुविधा ट्रेन के टिकट वापस करने पर पैसेंजर्स को 50 फीसदी भाड़ा वापस मिलेगा. इसके लिए एसी-2 पर 100 रुपए, एसी-3 पर 90 रुपए और स्लीपर पर 60 रुपए प्रति पैसेंजर्स की दर से रिफंड चार्ज काटा जाएगा.

जारी होगा कई भाषाओं में टिकट

अभी तक रेलवे की तरफ से सिर्फ अंग्रेजी भाषा में ही टिकट जारी किया जाता है. 1 जुलाई से एक नई व्यवस्था शुरू की जा रही है, जिसके तहत रेलवे यात्रियों को सिर्फ अंग्रेजी में ही नहीं, बल्कि अन्य कई भाषाओं में भी टिकट उपलब्ध कराएगा.

इसके लिए पहले भाषा का चुनाव करना होगा.