खुशनुमा वादियों वाला हिल स्टेशन लोनावला, इन खूबसूरत जगहों पर घूमना न भूलें

अगर आपका मन किसी ऐसी जगह पर घूमने का करता है जहां पर आपको कम भीड़ मिले तो आप ऐसी जगह को चुनना चाहेंगे, जहां पर प्रकृति की खूबसूरती भी देखने को मिले। आज हम आपको ऐसी ही डेस्टिनेशन के बारे में बताएंगे। मुंबई से पश्चिम की तरफ 96 किलोमीटर की दूरी पर एक खुशनुमा वादियों वाला हिल स्टेशन लोनावाला है। मुंबई और पुणे का प्रवेश द्वार कहे जाने वाले लोनावाला को महाराष्ट्र का स्विटजरलैंड भी कहा जाता है।

यहां घूमना न भूलें

बुशी डैम

लोनावाला से महज 6 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है बुशी डैम। यह यहां का प्रसिद्ध पिकनिक स्पॉट के रूप में जाना जाता है। खासकर मानसून के समय यहां वीकएंड में काफी भीड़ इक्ट्ठी हो जाती है। वैसे इस डैम में तैरने की अनुमति नहीं हैं। यहां अगर आप जाते हैं तो इस बात का ख्याल जरूर रखें कि डैम में पानी अचानक बढ़ जाता है।

ड्यूक नोज 

ड्यूक नोज को नागफनी के नाम से भी जाना जाता है इसका नाम एक ब्रिटिश गर्वनर के नाम पर पड़ा। खंडाला स्टेहशन से इसके शिखर पर आसानी से पैदल चढ़ा जा सकता है। इस पहाड़ी के समीप ही सौसेज हिल और आईएनएस शिवाजी है। सौसेज हिल पर एक छोटा सा जंगल है। यहां पक्षियों की विभिन्न प्रजातियां देखी जा सकती हैं।

कार्ले तथा भज गुफा

लोनावाला से पुणे जाने के मार्ग पर बौद्ध धर्म से संबंधित पत्थरों का काटकर बनाई गई कई गुफाएं हैं। लोनावाला से यहां जाने के लिए आप ऑटो ले सकते हैं। आप मालावी स्टे शन से लोकल ट्रेन से भी यहां जा सकते हैं। मालावी के दाई तरफ भज तथा बाई तरफ कार्ले है। पत्थरों को काटकर बनाई गई कार्ले की गुफाएं के स्तंभों पर बेहतरीन नक्कासशी की गई है। हीनयान सम्प्रीदाय द्वारा निर्मित इस गुफा को बाद में महायान संप्रदाय ने अपने नियंत्रण में लिया। इस गुफा के मुख्य  हाल के बाहर कोली मंदिर है।

खूबसूरत झीलें

वैसे तो लोनावाला में कई झीले हैं लेकिन इनमें कोई भी प्राकृतिक नहीं है। इन झीलों में लोनावाला झील, मानसून झील और वालवान झील प्रमुख हैं। इन झीलों में से कुछ का पानी बिजली उत्पादन के काम आता है।

वैक्स म्यूजियम

वर्सोली रेलवे स्टेशन से महज 3 किलोमीटर दूर टोल प्लाजा के पास एक वैक्स म्यूजियम है। यह म्यूजियम पुराने मुंबई-पुणे हाईवे पर पुणे से 60 किलोमीटर की दूरी पर है। पुणे की तरफ बढ़ने पर यह म्यूजियम वर्सोली से कुछ किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। इस म्यूजियम में आध्यात्मिक गुरु, राजनीतिज्ञ, संगीतकार, क्रिकेटर और अंतरराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त व्यक्तियों की मोम की मूर्तियां सुशोभित हैं। इन मूर्तियों में यसुदास, कपिल देव, विवेकानंद, हिटलर, सद्दाम हुसैन और माइकल जैक्सन की मूर्तियां शामिल हैं।

कैसे पहुंचे 

फ्लाइट से 

लोनावाला से नजदीकी हवाई अड्डा पुणे है। यहां उतरकर टैक्सी के जरिए लोनावाला पहुंच सकते हैं। लोनावाला मुंबई और पुणे के बीचों बीच बसा है इसलिए आप अगर मुंबई के एयरपोर्ट पर भी आते हैं, तो वहां से सीधे लोनावाला पहुंच सकते हैं। पुणे एयरपोर्ट लोनावाला से 64 किलोमीटर दूर है जबकि मुंबई का छत्रपति शिवाजी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा यहां से 104 किलोमीटर की दूरी पर है।

सड़क से

लोनावाला मुंबई-पुणे एक्सप्रेस वे पर है और सड़क के मार्ग दूसरे शहरों से भी जुड़ा हुआ है। खोपोली, करजात, तालेगांव से भी यहां के लिए कई बसें चलती हैं।

ट्रेन से

पुणे से प्रत्येक 2 घंटे पर लोनावाला के लिए लोकल ट्रेन चलती हैं। ट्रेन के जरिए मुंबई से यहां पहुंचने में 3 घंटे लगते हैं जबकि पुणे से यहां डेढ़ घंटे में पहुंचा जा सकता है। रेल से आने वाले यात्री पुणे या मुंबई पहुंचे और टैक्सी या बस के जरिए भी यहां पहुंच सकते हैं।