गठिया रोग के घरेलु उपचार

गठिया की परेशानी में लोग सबसे पहले डॉक्टर के पास जाते है, वहां उन्हें लम्बी चौड़ी दवाई की लिस्ट पकड़ा दी जाती है. कुछ लोगों को तो ये दवाइयां तुरंत असर दिखाती है, लेकिन कुछ लोगों को लम्बे समय तक इससे कोई फर्क नहीं पड़ता है. लम्बे समय तक दवाई खाते खाते मरीज भी परेशान हो जाता है. आज हम आपको इसका प्राकतिक घरेलु उपचार बताते है. आप घर में ही अपने खान पान में सुधार करके इस बीमारी से लड़ सकते है.

अदरक: सूखे अदरक को पीस कर उसका पाउडर बना लें, अब 6 चम्मच अदरक पाउडर में, 6 चम्मच जीरा पाउडर एवं 3 चम्मच काली मिर्च पाउडर मिलाएं. सबको अच्छे से मिलाकर, आधी चम्मच पाउडर को पानी के साथ खा लें. ऐसा हर रोज दिन में 3 बार करें.

हल्दी: हल्दी के रोज उपयोग से सुजन कम होती है. गठिया से होने वाली सुजन पर भी ये असरदारी है. आप हल्दी की जो कैप्सूल आती है, वह 500mg या 1000mg की ले सकती है. आप हल्दी का जूस भी पी सकते है. इसके अलावा गर्म दूध में हल्दी डालकर सोने से पहले पियें. आराम मिलेगा.

मसाज: गठिया के रोग में सरसों के तेल से मालिश बहुत अच्छी होती है. इससे जकड़न एवं दर्द दोनों ठीक हो जाता है. ये प्राकतिक उपचार है, जिससे खून का संचार भी बढ़ता है.तेल को हल्का गुनगुना कर लें, आप इसमें प्याज का रस भी मिला सकते है. अब इसे जोड़ो में दर्द वाले स्थान में लगायें. अब इसे प्लास्टिक से व्रैप कर लें फिर इसमें गर्म टोवल से सिकाई करें. रात को सोने से पहले रोज ऐसा करें.

Leave a Reply