चैंपियंस ट्रॉफी 2017: तो क्या पाकिस्तान से जीतकर भी ‘हार’ जाएगा भारत!

आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी गणित के समीकरणों के चलते रोमांच के चरम पर पहुंच चुकी है। पूल ए और पूल बी, दोनों में ही टीमों के लिए दिलचस्प मोड़ पर खड़े हैं। गुरुवार को भारत की हार ने पूल बी को और भी दिलचस्प बना दिया है। इस ग्रुब के बाकी बचे दोनों मैच अब ‘क्वार्टर फाइनल’ की तरह ही हैं। भारत-साउथ अफ्रीका और पाकिस्तान-श्रीलंका के मैचों के विजेता ही सेमीफाइल तक पहुंचेंगे।
वहीं, पूल ए भी कुछ कम दिलचस्प नहीं है। न्यूजीलैंड आश्चर्यनजक तरीके से जहां सबसे नीचे हैं, तो वहीं ऑस्ट्रेलिया बिना किसी जीत के दूसरे पायदान पर मौजूद है। बारिश से प्रभावित इस ग्रुप के दो मैच पूरी तरह धुल चुके हैं। सबसे खास बात यह है कि अभी तक सिर्फ एक ही टीम ही, मेजबान इंग्लैंड, सेमीफाइनल का टिकट पक्का कर पाई है।
वहीं, पूल ए भी कुछ कम दिलचस्प नहीं है। न्यूजीलैंड आश्चर्यनजक तरीके से जहां सबसे नीचे हैं, तो वहीं ऑस्ट्रेलिया बिना किसी जीत के दूसरे पायदान पर मौजूद है। बारिश से प्रभावित इस ग्रुप के दो मैच पूरी तरह धुल चुके हैं। सबसे खास बात यह है कि अभी तक सिर्फ एक ही टीम ही, मेजबान इंग्लैंड, सेमीफाइनल का टिकट पक्का कर पाई है।
वहीं पूल बी में रविवार को भारत-दक्षिण अफ्रीका के बीच मैच होगा। इस अप्रत्यक्ष ‘क्वॉर्टर फाइनल’ में जीतने वाली टीम सेमीफाइल में जगह पक्की करेगी और हारने वाली टीम का सफर खत्म हो जाएगा। यह हाल पाकिस्तान और श्रीलंका के मैच में भी होगा। जीतने वाली टीम अंतिम-4 में पहुंचेगी और हारने वाली टीम के खिलाड़ी अपना सामान बांधेंगे।
यदि दक्षिण अफ्रीका भारत को हरा देता है और श्रीलंका के खिलाफ पाकिस्तान जीत जाता, तो भारत बाहर औ पाकिस्तान सेमीफाइनल का टिकट कटवा लेगा। ऐसे में भारत पाकिस्तान से जीतकर भी उससे हार जाएगा और अपना खिताब बचाने में नाकाम रहेगा। यदि भारत और पाकिस्तान दोनों जीत जाते हैं, तो यह संभावना भी बनती है कि दोनों टीमें फाइनल में फिर से भिड़ें।
इस चैंपियंस ट्रोफी में अभी तक बारिश ने कई मैचों का नतीजा तय किया है। अगर बारिश ने खेल दिखाया तो स्थिति और रोमांचक हो सकती है। यदि भारत को साउथ अफ्रीका का मैच बारिश से धुल जाता है तो भारत और साउथ अफ्रीका, दोनों के तीन अंक हो जाएंगे। इसके बाद पाकिस्तान और श्री लंका के मैच को जीतने वाली टीम के चार अंक होंगे और वह सेमीफाइनल में पहुंच जाएगी। ऐसे में नेट रन रेट से फैसला किया जाएगा।