जकार्ता में भारतीय समुदाय से बोले पीएम- नीयत नेक हो तो विकास होकर रहता है

जकार्ता। तीन देशों की यात्रा के पहले चरण में इंडोनेशिया पहुंचे प्रधानमंत्री का यह शानदार स्वागत हुआ। इसके बाद प्रधानमंत्री ने जकार्ता में भारतीय समुदाय के लोगों को संबोधित किया। अपने संबोधन की शुरुआत करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि आपका स्वागत दिल को छू गया। आप भारत में अपनी जड़ों से उतने ही जुड़े हुए हैं जितने इंडोनेशिया से। आप में से कई इंडोनेशियाई हैं लेकिन भारत आपके दिल में बसा है।

पीएम ने आगे कहा कि बीते चार वर्षों में सबा सौ करोड़ भारतीयों के प्रतिनिधि के रूप में दुनिया में जहां-जहां भी मैं गया, मेरा प्रयास रहा है कि आप जैसे उन लाखों बंधुओं और बहनों से मिलूं जिनका मूल भारत भूमि में है। भारत और इंडोनेशिया का संस्कृत और संस्कृति का रिश्ता है। आप सभी जो इंडोनेशिया में आज रच बस गए है, हमारे इस रिश्ते की मजबूत कड़ी हैं।

पीएम ने आगे कहा कि आज भारत दुनिया की सबसे बड़ी ओपन इकोनॉमीज में से एक है। भारत में रिकॉर्ड स्तर पर विदेशी निवेश हो रहा है। भारत का फॉरेन एक्सचेंज रिजर्व लगभग 300 बिलियन डॉलर से बढ़कर 400 बिलियन डॉलर के पार पहुंच गया है। पिछले 14 साल में मूडीज ने भारत की रैंकिंग बढ़ाई है।

पीएम ने आगे कहा कि 2014 में भारत के लोगों ने ऐसी सरकार को बहुमत दिया जिसका नेता एक गरीब परिवार का था। इंडोनेशिया में भी लोगों ने राष्ट्रपति विडोडो को चुना है जो विनम्र पृष्ठभूमि है।

पीएम बोले कि देश के लोगों की आशाओं-अपेक्षाओं के अनुरूप हमनें गुड गवर्नेंस पर बल दिया है, मिनिमम गवर्नमेंट और मैक्सिमम गवर्नेंस पर बल दिया है। हम सिटीजन फर्स्ट के मंत्र को लेकर आगे बढ़ रहे हैं। सरकार ग्राउंड लेवल पर जाकर प्रशासनिक, वित्तीय और कानूनी कदम उठा रही है। हमने इन चार सालों में 1400 पुराने कानून खत्म किए हैं। आज भारत में पासपोर्ट के लिए चक्कर नहीं लगाना पड़ते बल्कि कुछ ही दिनों में घर पहुंच जाता है।

पीएम ने कहा कि जब से देश में सरकार बदली है, देश बदल रहा है। नीयत नेक हो तो विकास होकर रहता है। हमने यूपीए सरकार के समय में 59 पंचायतों की तुलना में पिछले चार साल में 1.30 लाख पंचायतों तक ऑप्टिकल फायबर नेटवर्क पहुंचाया है। हमरी पहली प्राथमिकता भारत को भ्रष्टाचार मुक्त करना, सिटिजन सेंट्रिक और विकासोन्मुखी बनाना है।