‘ट्यूबलाइट’ देखने जा रहे हैं तो जरूर पढ़ लीजिए ये 10 बातें

नई दिल्ली: सलमान खान की फिल्म ‘ट्यूबलाइट’ का सभी लोग बड़ी ही बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं, लेकिन उनका इंतजार अब खत्म होने वाला है, क्योंकि यह फिल्म कल यानी 23 जून को ईद के मौके पर रिलीज हो रही है। हर साल की तरह इस साल भी सलमान खान अपने फैंस को ईदी देने के लिए तैयार हैं। इस फिल्म को रिलीज से पहले ही इतनी लोकप्रियता मिल गई है कि अब सभी की आंखे बॉक्स ऑफिस पर गड़ गई हैं कि हर साल की तरह सलमान की यह फिल्म भी रिकार्ड तोड़कर एक नया रिकार्ड कायम करेगी।

सलमान खान की फिल्म ‘ट्यूबलाइट’ साल 2015 में आई हॉलीवुड फिल्म ‘लिटिल बॉय’ से प्रेरित है। ‘ट्यूबलाइट’ फिल्म में सलमान खान को देखने के लिए थिएटर में जाने से पहले इस फिल्म की कहानी से जुड़े इन 10 पाइंट्स को जरूर पढ़ लीजिए।

1. फिल्म में लक्ष्मण (सलमान खान) और भरत (सोहेल खान) दोनों भाई हैं। 1962 के भारत-चीन युद्ध की घोषणा होती है और भरत, भारत की तरफ से युद्ध के लिए चला जाता है।

2. लक्ष्मण और भरत दोनों एक दूसरे के बहुत करीब हैं, जैसा कि फिल्म के प्रोमो में दिखाई दे रहा है।

1. फिल्म में लक्ष्मण (सलमान खान) और भरत (सोहेल खान) दोनों भाई हैं। 1962 के भारत-चीन युद्ध की घोषणा होती है और भरत, भारत की तरफ से युद्ध के लिए चला जाता है।

2. लक्ष्मण और भरत दोनों एक दूसरे के बहुत करीब हैं, जैसा कि फिल्म के प्रोमो में दिखाई दे रहा है।

3. भारत-चीन युद्ध के बाद खबर आती है कि भरत युद्ध में मारा गया है।

4. लिटिल बॉय में भी दिखाया जाता है कि बच्चे के पिता द्वितीय विश्व युद्ध के दौरान मारे जाते हैं।

5. ट्यूबलाइट के प्रोमो मे यकीन शब्द का इस्तेमाल हुआ है। लिटिल ब्वॉय में भी फेथ शब्द का इस्तेमाल हुआ था और कहा गया था कि फेथ हो तो पहाड़ पर भी रास्ता बनाया जा सकता है।

6. भरत के मारे जाने की खबर सुनकर लक्ष्मण को विश्वास नहीं होता और वह भरत को ढूंढ़ने के लिए निकल जाता है।

7. लक्ष्मण एक चीनी बच्चे (माटिन रे) का दोस्त बन जाता है, क्योंकि भारत और चीन एक दूसरे के साथ युद्ध कर रहे हैं, इसलिए दुश्मन देश के किसी से दोस्ती करना भारतीय के लिए एक बड़ा सौदा है।

8. सीमा पार अपने इस दोस्त की मदद से लक्ष्मण अपने भाई को ढूंढना शुरू कर देता है।

9. लक्ष्मण को यह पता चलता है कि यह गलत पहचान का मामला है और उसका भाई भरत जिंदा है। भरत के जूते किसी और के पैर में थे और जूते की वजह से उन्हें भरत समझा गया था।

10. लक्ष्मण अंत में भरत से मिलता है, और फिल्म की हैप्पी एंडिंग हो जाती है।