ट्यूशन जा रहे बच्चे का अपहरण, खुद ने बचाई अपनी जान

जयपुर। राजस्थान के सीकर में ट्यूशन जा रहे 13 साल के बालक का तीन कार सवार बदमाशों ने अपहरण कर लिया, लेकिन बच्चे ने हिम्मत रखी और घटना के करीब ढाई घंटे बाद उसने खुद ही अपने आपको आजाद करा लिया।

जानकारी के अनुसार दासा की ढाणी में खेत में रहने वाले महेंद्र का पुत्र राहुल सातवीं कक्षा का छात्र है जो शाम को ट्यूशन के लिए घर से साइकिल लेकर रवाना हुआ था। वह टीचर के घर पहुंचा, तो पेन घर पर भूलने के वजह से वो नया पेन खरीदने के लिए दासा की ढाणी के फाटक के पास गया था। जब वह जा रहा था तो यहां फाटक के पास कार सवार तीन युवकों ने रास्ता पूछने के लिए नजदीक बुलाया और बालक के पास जाते हि तीनों बदमाशों ने उसे जबरदस्ती कार में बैठा लिया। काफी देर तक वे इसे इधर-उधर घुमाते रहे।

बदमाशों ने आनंद नगर की रेलवे पटरियों के पास कार रोकी तो बच्चा कार के गेट से कूद गया और वहां से भाग निकला। पास ही एक मकान के बाहर एक व्यक्ति को खड़ा देख उसके घर के अंदर चला गया और घटना की पूरी जानकारी देकर परिजनों को बुलवा लिया।

13 साल के राहुल के अनुसार अपहरणकर्ता तीन थे, जिनमें दो लंबे और छोटे कद का था। तीनों ने सिर पर टोपी पहन रखी थी। उसे कार में डालते ही जब वह रोने लगा तो उसको थप्पड़ भी मारा गया और चीखने-चिल्लाने पर मारपीट की धमकी दी तो राहुल भी डर गया। राहुल का कहना था कि तीनों ने पुड़िया खरीदने के लिए कार को रोका तो हिम्मत कर वह कार से भाग निकला।