ट्रेन से कट कर दो हिस्सों में बंटा, धड़ का हिस्सा उठकर बोला- ‘मालीवाडा का संजू हूं’

नंदूरबार (महाराष्ट्र). महाराष्ट्र में नंदूरबार रेलवे स्टेशन पर सोमवार सुबह 10:30 बजे एक शख्स ने मालगाड़ी के आगे कूद कर खुदकुशी कर ली। उसका शरीर दो हिस्सों में बंट गया। मौके पर पहुंचे एक पुलिसकर्मी ने युवक के धड़ को छुआ। तभी उसका धड़ हाथों का सहारा लेकर उठा और टूटते शब्दों में अपना नाम-पता बताते हुए बोला- मैं मालीवाड़ा का संजू हूं। खुद को नंदूरबार का निवासी बताया। हालांकि पुलिस ज्यादा जानकारी प्राप्त करती तब तक उसने दम तोड़ दिया। मृतक की पहचान नंदूरबार निवासी संजय नामदेव मराठे (30) के रूप में हुई है। फिलहाल संजय के खुदकुशी करने की वजह साफ नहीं हुई है।

ऑटो चालकों ने सम्मान में बंद रखा कामकाज
– संजय मराठे नंदूरबार में ऑटो चलाता था। संजय के इस कदम की जानकारी दोपहर में मिलने के बाद नंदूरबार के ऑटो चालकों ने संजय मराठे के अंतिम संस्कार तक कामकाज बंद रखा।

फर्स्ट पर्सन:
घटना की जानकारी मिलने पर रेलवे पुलिस सहायक संजय वसंत तिरगी रेस्क्यू के लिए पहुंचे। देखा कि युवक रेलवे ट्रैक पर पड़ा था। गुड्स ट्रेन ऊपर से गुजरने की वजह से उसका शरीर दो हिस्सों में कट चुका था। हाथ में हलचल महसूस होने पर मैंने धड़ के हिस्से को उठाने का प्रयास किया तो उसने आंखें खोलीं। मैंने नाम पूछा, तो बोला-‘मालीवाडा का संजू हूं’। इसके 10 मिनट बाद उसकी सांसें थम गईं। मैंने अपने जीवन में ऐसी पहली घटना देखी है।