तेजस्वी का एक और तंज: सरकार के झूठे आरोपों से परेशान होकर चूहे भी कह रहे हैं, नीतीश जी अब किसे दोषी ठहराएंगे?

पटना: बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर लगातार हमलावर रुख अपनाने वाले राजद नेता और बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने एक बार और हमला बोला है. इस बार लालू यादव के बेटे तेजस्वी यादव ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की सरकार पर ‘चूहों’ को लेकर कटाक्ष किया है. दरअसल, पिछले साल बिहार के जल संसाधन मंत्री ललन सिंह ने एक तटबंध टूटने पर इसके लिए चूहे को दोषी बताया था, जबकि शराबबंदी के बाद एक थाने के मालखाने में रखे जब्त शराब के गायब होने पर पटना के एक थाने के अधिकरियों ने चूहों के शराब पी जाने की बात कही थी. इसी को निशाना साध कर तेजस्वी ने तंज कसा है राजद नेता तेजस्वी ने नीतीश पर आरोप लगाया कि राज्य में तटबंध टूट रहे हैं, थाने से शराब गायब हो रही है, ऐसे में वे अब किसे दोषी ठहराएंगे? बता दें कि इससे पहले शुक्रवार को तेजस्वी यादव ने ट्वीट कर नीतीश-शाह डिनर पर तंज कसा था कि अब नीतीश कुमार गिरिराज सिंह के साथ मिलकर सांप्रदायिकता के खिलाफ लड़ाई तेज करेंगे तेजस्वी ने शनिवार को ट्वीट किया, “1000 करोड़ रुपये का बांध टूटे, करोड़ों रुपये की जब्त नौ लाख लीटर शराब गायब हो जाए, करोड़ों रुपये की दवाई गायब हो जाए, गरीबों का राशन गायब हो जाए. नीतीश जी के कुशासनी राज में भ्रष्टाचार के दोषी चूहे ही होंगे. चूहे इनके झूठे आरोपों से परेशान हो पलायन कर कह रहे हैं, अब नीतीश जी किसे दोषी ठहराएंगे?” बता दें कि तेजस्वी ने शुक्रवार को भी तंज सकते हुए कहा था कि ‘अमित शाह के साथ डिनर करने के बाद नीतीश कुमार ने अपने पसंदीदा साथी गिरिराज सिंह एंड कंपनी के साथ मिलकर महिलाओं के प्रति बढ़े अपराध, भ्रष्टाचार और बीते एक साल में उजागर हुए पांच हजार के घोटाले का जिक्र किए बिना सांप्रदायिकता के खिलाफ लड़ाई तेज कर दी है.’ यानी तेजस्वी ने नीतीश कुमार पर हमला बोलते हुए भारतीय जनता पार्टी और गिरिराज सिंह पर भी हमला किया.