दिवाली मनाने घर जाने वाला था, ऐसा पहुंचा कि सब हिल गए

द्वारका नगर में शुक्रवार रात बर्थ डे पार्टी के दौरान हुई एक युवक रुद्र की नृशंस हत्या के मामले में पुलिस ने सभी 11 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। इनमें चार नाबालिग हैं। आरोपी रुद्र के चेहरे पर जानबूझकर सिगरेट के छल्ले बनाकर धुआं छोड़ रहे थे।

इस बात का उसने विरोध किया तो उसे घेरकर चाकू, डंडे से हमला कर मार डाला था। रुद्र के पिता का रो-रोकर बुरा हाल था। उन्होंने बताया कि दो दिन पहले ही बेटे ने फोन पर कहा था कि मैं दिवाली मनाने शनिवार को घर आ जाऊंगा। मुझे क्या पता था कि बेटा नहीं उसकी अर्थी घर पहुंचेगी।

स्टेशन बजरिया थाना प्रभारी डीपीसिंह ने बताया कि मृतक रुद्र उर्फ संतोष पुत्र श्रीचंद चंदन गांव छिंदवाड़ा का रहने वाला था। वह अशोका गार्डन में रहकर प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहा था। रुद्र की पहचान एक किन्नार द्वारा संचालित एनजीओ में काम करने वाले मयंक शर्मा और मुकेश नागले से थी।

भीमनगर में रहने वाले मुकेश का दोस्त हैदर ऑटो चलाता है। शुक्रवार को हैदर के दोस्त राहुल कुशवाहा के घर द्वारका नगर में बर्थ डे पार्टी थी। हैदर के कहने पर मयंक,मुकेश के साथ रुद्र भी रात 10 बजे द्वारका नगर राहुल के घर पहुंच गए थे। राहुल के घर पर छत पर कार्यक्रम चल रहा था।

हैदर और उसके साथ गए तीनों दोस्त राहुल के घर के सामने खड़े हुए थे। इस दौरान एक आपे ऑटो से 9 लोग और एक्टिवा से ऐशबाग निवासी नईम और अशोकागार्डन निवासी अर्शिल भी वहां पहुंचे। इन सभी लोगों ने हैदर और उसके दोस्तों को चारों तरफ से घेर लिया।

इस दौरान शंकराचार्य नगर निवासी कल्लू ने सिगरेट के छल्ले बनाकर धुआं रुद्र के चेहरे पर फेंकना शुरू कर दिया। विरोध करने पर नईम झगड़ा करने लगा,तो रुद्र ने उसे धक्का दे दिया। इसके बाद कल्लू और नईम ने चाकू से रुद्र पर ताबड़तोड़ वार कर दिए। उनके साथ आए लोग डंडे लेकर उसपर टूट पड़े।

खून से लथपथ रुद्र को अस्पताल ले जाया गया,जहां डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने रात में ही घेराबंदी कर हत्या के आरोप में कल्लू,नईम,ऐशबाग निवासी आदिल, इमरान, चांद, अशोकागार्डन निवासी सोनू,अर्शिल और उनके चार नाबालिग साथियों को हत्या के आरोप में गिरफ्तार कर लिया। शनिवार शाम को परिजन रुद्र का शव लेकर छिंदवाड़ा रवाना हो गए।