दो साल की बेटी पर तेंदुए ने मारा झपट्‌टा, भिड़ गई मां और ऐसे बचाई जान

मुरैना(ग्वालियर). बच्ची के साथ पैदल मायके जा रही महिला पर वन परिक्षेत्र जौरा के भैंसाई गांव में एक तेंदुए ने हमला कर दिया। तेंदुआ अचानक दो साल की बेटी पर झपट पड़ा। खुद की जान की परवाह किए बिना साहसी मां तेंदुए से भिड़ गई और बेटी की जान बचा ली। तेंदुए के हमले में मां जख्मी हो गई है। इलाज के लिए महिला को अस्पताल में भर्ती कराया है।
– जानकारी मुताबिक आशा कुशवाह पति श्यामसिंह कुशवाह (25) निवासी ग्राम भैंसाई शुक्रवार दोपहर दो साल की बेटी कामिनी को लेकर मायके जा रही थी। रास्ते में गुलाब के खेत से एक तेंदुआ सामने आ गया और बेटी कामिनी पर झपट पड़ा।
– बेटी को बचाने के लिए आशा जान की परवाह किए बिना तेंदुए से भिड़ गई। तेंदुए के हमले से आशा के हाथ-पैर में चोट आई पर आशा ने तेंदुए को नहीं छोड़ा। आखिरकार तेंदुआ दोबारा गुलाब के खेत में भाग गया।