नेपाल ने इंटरनेशनल क्रिकेट में रच डाला एक और बड़ा इतिहास, ‘बिग क्लब’ में हुआ शामिल

नई दिल्ली: ज्यादा नहीं  बल्कि कुछ ही दिनों पहले 27 और 28 जनवरी को हुई आईपीएल नीलामी की बात है, जब क्रिकेट की दुनिया में अदने से देश नेपाल ने इतिहास रचा था. अब एक और बड़ी खबर आ रही. नेपाल ने इंटरनेशनल क्रिकेट की दुनिया में बड़ा धमाका कर दिया है. नेपाल ने विश्व कप क्वालीफाइंग मुकाबले में पपुआ एंड गीनी को 6  विकेट से मात दी.
आपको याद दिला दें कि आईपीएल की नीलामी में नेपाल के 17 साल के युवा क्रिकेटर संदीप लेमिछाने ने पूरी दुनिया का ध्यान अपनी ओर खींचा था. तब इस लेग ब्रेक गुगली गेंदबाज को दिल्ली डेयर डेविल्स ने बीस लाख रुपये में खरीदा था. और इससे वह आईपीएल में चयनित होने वाले नेपाल के पहले क्रिकेटर बन गए थे. लेकिन वीरवार को नेपाल ने आईसीसी को अपने कारनामे से चौंका दिया. और इस बात से अब बीसीसीआई सहित बाकी बड़े क्रिकेट देशों का ध्यान भी अब नेपाल की ओर जाएगा.

वीरवार को नेपाल ने जिंबाब्वे में खेले जा रहे विश्व कप क्वालीफाइंग टूर्नामेंट में पपुआ न्यू गीनी को छह विकेट से हरा दिया. नेपाल की इस जीत में आईपीएल में चयनित होने वाले संदीप लैमिछाने और दीपेंद्र आइरी ने अहम भूमिका निभाते हुए चार-चार विकेट चटकाए

पपुआ एंड गीनी की टीम पहले बल्लेबाजी करते हुए 27.2 ओवरों में सिर्फ 114 रनों पर सिमट गई, जवाब में नेपाल ने 27 ओवर बाकी रहते जीत का लक्ष्य हासिल कर लिया. और इससे नेपाल को वह इनाम मिला, जो शायद उसने सोचा भी नहीं होगा

इस जीत के साथ ही नेपाल को अंतरराष्ट्रीय वनडे टीम का दर्जा मिल गया. अब वह भारत, दक्षिण अफ्रीका और ऑस्ट्रेलिया को मिलाकर शीर्ष 16 वनडे टीमों के ग्रुप में आ गया है. वहीं हांगकांग और पपुआ एंड गीनी ने अपना वनडे दर्जा गंवा दिया है.