नौकरों से करा रहे दिवाली की सफाई तो सावधान रहे कहीं ऐसा न हो जाए

अवधपुरी इलाके में एक भेल के इंजीनियर के घर से नौकरानी ने दिवाली की साफ-सफाई करने के बहाने दो लाख रुपए के जेवर पर हाथ साफ कर दिया। घर की मालकिन ने जब अलमारी खोली तो जेवर नहीं मिले। जिसके बाद उसने पुलिस में शिकायत की। पुलिस ने नौकरानी को गिरफ्तार किया तो उसने चोरी करना कबूल कर लिया, लेकिन वह 80 फीसदी जेवर बेच चुकी है।

अवधपुरी पुलिस के अनुसार अभिनव रीगल होम्स में रहने वाले सत्यश्री पाठक भेल में इंजीनियर हैं। उनके घर में संगीता (नौकरानी) दिवाली पर पुताई और साफ-सफाई का काम करत रही थी। इसी बीच उसने आलमारी से जेवर चुरा लिए।

इंजीनियर की पत्नी ने जब संदेह होने पर अलमारी खोलकर देखा तो 2 अंगूठी, सोने की चेन और ब्रेसलेट गायब थे। पहले उन्होंने परिवार के सदस्यों से पूछा, लेकिन जेवर की जानकारी नहीं मिली, इस पर सत्यश्री ने पुलिस में शिकायत की तो पुलिस ने नौकरानी संगीता को सबसे पहले हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू की। इस दौरान उसने कबूल कर लिया कि उसने ही जेवर चुराए थे।

अलमारी में लगी थी चाबी

अलमारी में चाबी लगी दिखी तो नौकरानी ने जेवर पर हाथ साफ कर दिए थे। वह अक्सर घर में छोटी मोटी चोरियां भी किया करती थी। पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर पूछताछ कर रही है। आरोपी महिला ने चोरी का ज्यादातर सामान बेच दिया है।

इधर, कटारा हिल्स में बीडीए के आवासीय प्रोजेक्ट में चोरी

कटारा हिल्स इलाके में बीडीए के निर्माणाधीन प्रोजेक्ट गौरीशंकर कौशल आवासी परिसर में चोरी का मामला सामने आया है। सामान की रखवाली करने वाला स्टोर कीपर और सुरक्षा गार्ड ही चोर निकले। पुलिस ने प्रोजेक्ट इंजीनियर की शिकायत पर चोरी का मामला दर्ज कर दोनों को हिरासत में ले लिया है।

पुलिस के अनुसार कटारा हिल्स में गौारीशंकर कौशल आवासीय परिसर बीडीए द्वारा बनवाया जा रहा है। जिसका निर्माण करने का जिम्मा दिलीप बिल्डकॉन कंपनी संभाल रही है। इस प्रोजेक्ट का सामान परिसर में रखा रहता है।

जिसके प्रोजेक्ट मैनेजर मनोज मेश्राम ने थाने में शिकायत की है कि स्टोर कीपर आलोक और सुरक्षा गार्ड शिवराज तोमर ने 50 हजार कीमत का सामान चुरा लिया है। पुलिस ने शिकायत पर दोनों को हिरासत में ले लिया है। दोनों काफी समय से प्रोजेक्ट में काम कर रहे थे।