पति ने छोड़ा साथ तो बेटी के लिए गॉडफादर बन गईं रीमा लागू, बना दिया इतना बड़ा स्टार

बॉलीवुड की सबसे चहेती मां यानि रीमा लागू अब इस दुनिया में नहीं रहीं। दिल का दौरा पड़ने से देर रात उनकी मौत हो गई। दिल का दौरा पड़ने पर उन्हें मुंबई के कोकिलाबेन अस्पताल में भर्ती करवाया गया था और वहीं उन्होंने अंतिम सांस ली।
फिल्मों में ही नहीं रियल लाइफ में भी रीमा लागू की छवि एक ऐसी मॉडर्न मां की रही जिन्होंने अपने दम पर सब कुछ संभाला। रीमा लागू ने अपने करियर की शुरुआत मराठी सिनेमा से की थी। कई सालों तक उन्होंने मराठी थियेटर में काम किया जिसके बाद उनकी एंट्री बॉलीवुड और मराठी फिल्मों में हुई। इसी दौरान उनकी मुलाकात पॉपुलर मराठी एक्टर विवेक लागू से हुई।
कुछ सालों बाद रीमा लागू और विवेक लागू शादी के बंधन में बंध गए। दोनों की एक बेटी भी है जिसका नाम मृण्मयी लागू है। मृण्मयी एक स्टेज और फिल्म एक्ट्रेस हैं। साथ ही वो एक थियेटर डायरेक्टर भी हैं।
शादी के कुछ वक्त बात तक तो सब अच्छा चला लेकिन फिर रीमा लागू और और उनके पति के बीच मनमुटाव शुरू हो गया। नतीजा ये हुआ कि शादी के कुछ सालों बाद ही रीमा लागू अपने पति विवेक लागू से अलग हो गईं।
विवेक लागू से अलग होने के बाद रीमा लागू ने फिर कभी शादी नहीं की और एक सिंगल मदर के तौर अपनी बेटी को पाला और पोसा। खुद को और अपनी बेटी को संवारने के लिए रीमा लागू ने जी-तोड़ मेहनत की।
उन्होंने उसे वो सबकुछ दिया जो एक बाप दे सकता था। एक सिंगल मदर के तौर पर रीमा लागू ने जो कड़ी मशक्कत की और अपनी बेटी और खुद को काबिल बनाए वो वाकई एक मिसाल है।
रीमा लागू एक साफ छवि की अभिनेत्री रहीं। उनका किसी भी तरह के विवाद में ना ता नाम ही सामने आया और ना ही किसी को-स्टार के साथ उनका नाम जोड़ा गया। अपने चार दशक के करियर में रीमा कपूर ने अपनी छवि को कभी दागदार नहीं होने दिया। उनकी कठिन अग्निपरीक्षा आज सभी के लिए मिसाल है।

Leave a Reply