पर्यटन निगम में 4 महीने से नहीं मिली कर्मचारियों की सैलरी

पर्यटन निगम में वेतन संकट बरकरार है. इकाइयों में कार्यरत करीब 600 कर्मचारियों को चार महीने से वेतन नहीं मिला है, जबकि इस दौरान ठेकेदारों के भुगतान और अन्य कार्य कराए किए जा रहे हैं.

पर्यटन निगम के बैंक खातों में भी इस समय करीब 8 करोड़ रुपए जमा हैं लेकिन इकाइयों में कर्मचारियों को वेतन नहीं दिया जा रहा.

सबसे ज्यादा प्रभावित मृतक आश्रित कोटे से नौकरी कर रही महिला कर्मचारी हैं, जिन्हें बच्चों की स्कूल फीस देने तक में परेशानी का सामना करना पड़ रहा है.

सूत्रों का कहना है कि कार्यकारी निदेशक और कार्यकारी निदेशक वित्त की द्वारा प्रबंधन को गलत जानकारी देकर कर्मचारियों के हितों से खिलवाड़ किया जा रहा है.

पर्यटन निगम कर्मचारी यूनियन के अध्यक्ष तेजसिंह का कहना है कि नए चेयरमैन और एमडी के आने के बाद कर्मचरियों में उत्साह है, लेकिन वेतन नहीं मिलने से परेशानी बढ़ती जा रही है.

सितंबर में अगला सत्र शुरू होगा ऐसे में कर्मचारियों के उत्साह को बरबरार रखा जाए ताकि वे पूरे जोश के साथ कार्य कर सकें.

Leave a Reply