पाकिस्तानी बल्लेबाज ने कहा – भारत के खिलाफ मैच आम मुकाबले जैसा

बर्मिंघमः आज से आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी का आगाज हो गया है, लेकिन क्रिकेट फैन्स को जिस मुकाबले का इंतजार है वो 4 जून को बर्मिंघम में भारत और पाकिस्तान के बीच होना है. इस मुकाबले को लेकर जहां क्रिकेट की दुनिया में चर्चा है वहीं ऐसा भी लग रहा है कि इस मैच से पहले दोनों टीमों के खिलाड़ियों में कितनी टेंशन होगी. लेकिन पाकिस्तान के सलामी बल्लेबाज अजहर अली ने कहा है कि वे अपने चिर प्रतिद्वंद्वी भारत के खिलाफ चैंपियन्स ट्राफी के महत्वपूर्ण मैच को लेकर बने उत्साही माहौल को खास तवज्जो नहीं देते हुए कहा कि बढ़ी अपेक्षाओं के बावजूद वे इसे एक आम मैच की तरह ले रहे हैं.
अजहर ने एजबेस्टन में अभ्यास सत्र के बाद कहा, ‘‘मेरा मानना है कि जब खेल शुरू होगा तो सभी खिलाड़ी इसे सहजता से लेंगे.’’ उन्होंने कहा, ‘‘खिलाड़ी परिस्थितियों के हिसाब से खेलते हैं. वह टीम की जरूरतों के हिसाब से खेलते हैं. खिलाड़ी पेशेवर हैं इसलिए वे यह सोचने के बजाय कि वह किसके खिलाफ खेल रहे हैं, खुद को परिस्थितियों के हिसाब से ढाल लेते हैं. यह गेंद और बल्ले का खेल है और आप इन दोनों से अच्छा प्रदर्शन करना चाहते हो.’’ \
अजहर ने कहा, ‘‘एक पेशेवर होने के नाते आपको इसे एक मैच की तरह लेना होता है. कोई भी अंतरराष्ट्रीय मैच आसान नहीं होता है. आपको उसके लिये कड़ी मेहनत करनी होती है और भारत के खिलाफ भी ऐसा ही होगा. प्रत्येक टीम में जब भी खिलाड़ी अपनी राष्ट्रीय टीम की जर्सी पहनता है तो उसका उद्देश्य अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करना होता है. यह दोनों टीमों पर लागू होगा. ’’ उन्होंने कहा, ‘‘हम जिस तरह की क्रिकेट खेलना चाहते हैं हमारा पूरा ध्यान उस पर है. हम इसे आम मैच की तरह ले रहे हैं. हमसे काफी उम्मीदें लगायी गयी हैं. हम इन पर खरा उतरने की कोशिश करेंगे. ’’
अजहर खुद पर अधिक दबाव नहीं बनाना चाहते हैं. उन्होंने कहा, ‘‘अगर आप खुद से बहुत अधिक उम्मीद लगा लेते हो तो आप खुद पर दबाव बना दोगे. मैं अपनी फिटनेस और फार्म में खुश हूं और क्रीज पर उतरकर अच्छा प्रदर्शन करना चाहता हूं. टूर्नामेंट में भाग ले रहा हर खिलाड़ी ऐसा चाहता है. ’

Leave a Reply