पाटीदार समाज की 25-26 सीट बदल देंगी कांग्रेस का भाग्य

गुजरात विधानसभा चुनाव में इस बार कांग्रेस ने पाटीदार, दलित, आदिवासी और अन्य पर भरपूर दांव लगाया है। पार्टी के रणनीतिकारों का कहना है कि जनता और उसकी उमड़ रही भीड़ काफी कुछ कह रही है।
वहीं गुजरात कांग्रेस के आईटी सेल के प्रमुख रोहन गुप्ता का कहना है कि पाटीदार क्षेत्र की 25-26 सीट पर सफलता ही पार्टी का भाग्य बदल देगी। भाजपा के मुकाबले पार्टी के पास कार्यकर्ता कम है। कारण साफ है। कांग्रेस पिछले 22 साल से सत्ता से दूर है। हर बूथ के हिसाब से कांग्रेस के पास यदि दस लोग हैं तो भाजपा इसमें भारी है। अभी तक पाटीदार समाज खुलकर भाजपा के साथ रहता था। वह भाजपा के पक्ष में आक्रामक प्रचार करता था और जमकर मतदान कराने में अहम भूमिका निभाता है।

इस बार इस तरह की स्थिति नहीं है। रहा सवाल हार्दिक पटेल के साथियों में फूट और उनके भाजपा में जाने का तो इससे कोई बड़ा फर्क नहीं पडऩे वाला है।