पीएम आवास में गड़बड़ी, सदस्यों का हंगामा

प्रधानमंत्री आवास योजना में हितग्राहियों से कोरे विड्राल फार्म में दस्तखत कराकर बैंक से मनमर्जी राशि निकालने के मामले पर जिला पंचायत सामान्य सभा की बैठक में सदस्यों ने जमकर हंगामा किया। इसके लिए सदस्यों ने सीधेतौर पर सरपंच, सचिव और अधिकारियों पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाया। इस पर सीईओ ने दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने की बात कही है।

जिला पंचायत के सभाकक्ष में गुरुवार दोपहर सामान्य सभा की बैठक रखी गई थी। इसमें सबसे पहले पालन प्रतिवेदन पढ़ा गया। इसके बाद एजेंडावार मुद्दों पर चर्चा हुई। बैठक के बीच में जिला पंचायत सीईओ फरिहा आलम सिद्दिकी ने प्रधानमंत्री आवास योजना की प्रगति को लेकर जानकारी दी। इस दौरान प्रतिनिधि प्रहलाद कश्यप और मनोज गुप्ता ने योजना में हो रही गड़बड़ी को हंगामा मचाना शुरू कर दिया। उन्होंने बताया कि सरपंच और सचिव अधिकारियों के इशारे पर हितग्राहियों को भय दिखाकर उनसे कोरे विड्राल फार्म में दस्तखत करा रहे हैं और अपनी मर्जी से बैंकों से रकम निकाल रहे हैं। इसके बाद वे अपनी मनचाही जगह से मटेरियल ले रहे हैं। हितग्राहियों को पता नहीं होता है और मटेरियल उनके घर में आ जाता है। इसी तरह एक हितग्राही के नाम पर दो-दो बार राशि का आवंटन हो गया है। इस पर सीईओ का कहना था कि मामले की जांच कराकर दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। मालूम हो कि इस मुद्दे को लेकर नईदुनिया ने सबसे पहले खबर प्रकाशित की थी। इसमें हो रही गड़बड़ी को लेकर जानकारी दी गई थी।