पैदल या साइकिल से जाएंगे दफ्तर तो नहीं आएगा हार्ट अटैक

नई द‍िल्‍ली : एक स्‍टडी में पाया गया है कि कार से चलने वाले लोगों की बजाय साइकिल चलाने वालों और पैदल चलने वाले लोगों को दिल की बीमारियो का खतरा कम रहता है

पैदल चलने और साइकिल चलाने जैसी फिजिकल एक्‍टीविटी दिल की बीमारियों का खतरा कम कर देती हैं. लेकिन देखा जा रहा है कि इसके फायदे होने के बावजूद कई देशों में इसे इग्‍नोर किया जा रहा है.

हालांकि , ऐसा देखा जा रहा है कि ज्‍यादातर लोग ऐसे पेश में काम कर रहे हैं, जहां फिजिकल एक्‍टीविटी न के बराबर होती है.

इस स्‍टडी में ब्रिटेन की कैंब्रिज यूनिवर्सिटी, लंदन स्कूल ऑफ हाईजीन एंड ट्रॉपिकल मेडिसिन और इंपीरियल कॉलेज लंदन के शोधकर्ता शामिल थे.

इस स्‍टडी को ‘हार्ट’ नाम की मैगजीन में पब्‍लिश किया गया है. इसमें 2006 से 2010 के बीच 3 लाख 58 हजाार 799 लोगों का डाटा इकट्ठा किया गया. उनसे पूछा गया कि वे आने-जाने के लिए कौन सा साधन चुनते हैं. देखा गया कि क्या इसके लिए वे सिर्फ कार पर निर्भर हैं या कोई और ऑप्‍शन चुनते हैं.

पाया गया कि अंदाजन एक तिहाई लोग अपने ऑफिस या वर्क प्‍लेस पर कार से जाते हैं जबकि साइकिल से जाने वाले लोगों की संख्या तुलनात्मक रूप से कम थी. सिर्फ 8.5 फीसदी लोगों ने बताया कि वे साइकिल का इस्तेमाल करते हैं.

आंकड़ों के विश्लेषण से यह पता चलता है कि नियमित रूप से साइकिल से जाने वाले और पैदल यात्रा करने वालों में दिल की बीमारी का खतरा 11 फीसदी कम होता है.