फार्म भरने में अगर गलती हुई , तो सुधार नहीं करेगा व्यापम ..

व्यावसायिक परीक्षा मंडल से चौकाने वाली खबर मिल रही हे ,प्राप्त जानकारी के अनुसार व (पीईबी) द्वारा ली जाने वाली परीक्षा में अगर अभ्यर्थी ऑनलाइन फार्म भरने में कोई गलती करता है उसे इसका खामियाजा भुगतना पड़ेगा। अब एक बार ऑनलाइन फार्म भर जाने के बाद आवेदक उसमे कोई भी परिवर्तन नहीं करवा सकेंगे |किसी भी प्रतियोगी परीक्षा में बड़ी संख्या में ऐसे अभ्यर्थी होते हैं जो फार्म भरने के दौरान लापरवाही की वजह से गलती कर बैठते हैं। लेकिन, अगर वे उक्त नौकरी के लिए ली गई परीक्षा में संबंधित पद के लिए चयनित हो जाते हैं तब उन्हें दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। ऐसे कई मामलों में बाद में अभ्यर्थियों को चक्कर काटना पड़ते हैं।
सॉफ्टवेयर को नहीं पता पड़ता है सही-गलत के बारे में :
पीईबी के अधिकारियों ने कहा की कि अभ्यर्थी जो भी जानकारी भरता है उसे हम सही मानते हैं। बाद में जब संबंधित विभाग में दस्तावेज और अन्य जानकारियों की जांच होती है तो खुलासा होता कि अभ्यर्थी ने गलत जानकारी भर दी थी। अधिकारियों ने बताया कि सॉफ्टवेयर तो भरी हुई जानकारी के आधार पर काम करता है। उसे नहीं पता होता कि कौन किस वर्ग का है।
एक अन्य मामले में अभ्यर्थी ने सामान्य जाति की जगह अनुसूचित जनजाति पर टिक लगा दिया। उनका पेपर अच्छा गया था और आरक्षण का लाभ भी उन्हें मिला। बाद में दस्तावेज का जब सत्यापन हुआ तो यह मामला सामने आया कि उन्होंने गलत जानकारी दी। इस कारण वे अपात्र घोषित कर दिए गए।