बलरामपुर : कुपोषित बच्चों को सुपोषित बनाने सार्थक पहल करने के निर्देश

जिले के आंगनबाड़ी केन्द्रों में चिन्हाकित कुपोषित बच्चों को सुपोषित बनाकर कुपोषण मुक्ति दिलाने के लिए जिले के जिला स्तर, अनुभाग स्तर के साथ अन्य स्तर के अधिकारियों को दायित्व सौंपा गया है। ये अधिकारी चिन्हाकित केन्द्र के बच्चों के पास पहुंचकर कुपोषण दूर करने के लिए सार्थक पहल करेंगे।
कलेक्टर श्री अलेक्स पाल मेनन के कुशल निर्देशन में जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री रणबीर शर्मा ने विगत दिवस कलेक्टर सभा कक्ष में जिले के सर्व कार्यालय प्रमुख अधिकारियों को निर्देशित किया है कि जिले के आंगनबाड़ी केन्द्रों में चिन्हाकित कुपोषित बच्चों को सुपोषित बनाने के लिए जो जिम्मेदारी दी गई है उन सभी आदेशों का पालन सुनिश्चित होना चाहिए। उन्होंने अधिकारियों को निर्देशित किया है कि जिन आंगनबाड़ी केन्द्रों में कुपोषित बच्चों के मानिटरिंग के लिए दायित्व सौंपा गया है। इसके तहत आंगनबाड़ी पहुंच कर देखे कि आगनबाड़ी केन्द्रों में साबुन रखा हुआ है या नहीं और बच्चें खाना खाने के पूर्व एवं शौच एवं मलमूत्र त्याग करने के बाद साबुन से अच्छे से हाथ धोते हैं या नहीं। गर्म भोजन साफ-सुथरा बन रहा है या नहीं देखना है। छोटे बच्चों के नाखुन एवं बाल कटे हुए होना चाहिए। गर्म भोजन के साथ स्थानीय स्तर पर जल्दी और सस्ती दर पर उपलब्ध होने वाली पौष्टिक सब्जी लाल भाजी, पालक भाजी, लौकी, मुनगा आदि बनाना चाहिए। इसी प्रकार सप्ताह में बच्चों एवं गर्भवती माताओं को दी जाने वाली आयरन टेबलेट मिल रहा है या नहीं निरीक्षण एवं परीक्षण करना है।
जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री रणबीर शर्मा ने मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी एवं जिला शिक्षा अधिकारी तथा जिला महिला एवं बाल विकास अधिकारी को निर्देशित किया कि सप्ताह में एक दिन आयरन की टेबलेट वितरण की व्यवस्था सुनिश्चित करें। ताकि जिले के सभी आंगनबाड़ी केन्द्रों के कुपोषित बच्चे सुपोषित होकर कुपोषण से मुक्त हो सके।

Leave a Reply