बुजुर्गों के मनोरंजन के लिए यहां बनेगी ‘बापू की कुटिया

बुजुर्गों के अकेलेपन को दूर करने के लिए जिला प्रशासन ने ‘बापू की कुटिया’ बनाने का निर्णय लिया है। इसके लिए 7.50 करोड़ रुपए का बजट निर्धारित किया गया है। शुक्रवार को कलेक्टोरेट सभाकक्ष में नगर निगम, समाज कल्याण विभाग और सामाजिक संगठनों की बैठक कलेक्टर ओपी चौधरी की अध्यक्षता में हुई।

इसमें सभी ने बुजुर्गों के हित में मिलकर कार्य करने की बात कही। कलेक्टर चौधरी ने कहा कि शहर के विभिन्न उद्यानों और खाली जगहों पर बुजुर्गों के मनोरंजन के लिए कुल 15 ‘बापू की कुटिया’ बनाई जाएगी। यहां मनोरंजन के पर्याप्त साधन होंगे, जिससे उनका एकाकीपन दूर होगा।

कुटिया का निर्माण ऐसे क्षेत्रों में किया जाएगा, जहां अधिक से अधिक बुजुर्ग आ सकें। संचालन का जिम्मा आसपास के स्वयंसेवी अथवा सामाजिक संगठनों को दिया जाएगा।