बेमेतरा : कटई जनसमस्या निवारण शिविर में 242 आवेदन का निराकरण : केन्द्र/राज्य सरकार की योजनाओं से लाभान्वित हों जनता – सहकारिता मंत्री श्री बघेल

जिले के नवागढ़ विकासखंड के ग्राम कटई में बुधवार 11 अक्टूबर को आयोजित जिला स्तरीय जनसमस्या निवारण शिविर में विभिन्न विभागों से संबंधित कुल 368 आवेदन प्राप्त हुए। जिसमें 242 आवेदनों का मौके पर निराकरण अधिकारियों द्वारा किया गया। शेष लंबित 126 आवेदनों के निराकरण के लिए 15 दिवस की समय-सीमा निर्धारित की गई है। जिला प्रशासन द्वारा आयोजित इस शिविर में प्रदेश के सहकारिता, संस्कृति एवं पर्यटन मंत्री श्री दयालदास बघेल भी सम्मिलित हुए। शिविर में कलेक्टर श्री कार्तिकेया गोयल की मौजूदगी में अधिकारियों ने विभाग को प्राप्त लोगों के आवेदन के निराकरण की जानकारी दी। शिविर में खाद्य विभाग द्वारा प्रधानमंत्री उज्जवला येाजनांतर्गत 13 हितग्राही महिलाओं को गैस सिलेण्डर एवं चुल्हा वितरित की गई। जिसमें ग्राम कटई के आगरबाई, रामेश्वरी वर्मा, जानकी बाई, बिसाहिन, बिमला जोशी, उर्मिला साहू, संगीता बाई, श्याम बाई सोनवानी, सहोद्रा बाई साहू, पुन्नी बाई, अमरिका बाई, कमला बाई और सरोजनी निषाद शामिल है। कृषि विभाग द्वारा 5 कृषकों को हैण्ड स्प्रेयर वितरित की गई। जिसमें ग्राम कटई के कृषक भारती, ग्राम नगधा के काशीराम, ग्राम अमोरा के निर्मल वर्मा, ग्राम मेहना के राम खिलावन, और ग्राम खपरी के मन्नू साहू शामिल है। श्रम विभाग द्वारा मुख्यमंत्री निर्माण श्रमिक कौशल विकास एवं परिवार सशक्तिकरण योजना के अंतर्गत प्रशिक्षण प्राप्त 6 हितग्राहियों को 65 हजार 565 रूपए मानदेय राशि वितरित की गई। जिसमें ग्राम कटई के छत्रपाल, पुरूषोत्तम, प्रीतम कुमार, गणेश राम, चुम्मन और वेदप्रकाश शामिल है। इसी प्रकार समाज कल्याण विभाग द्वारा क्षेत्र के पांच निःशक्तजनों को ट्रॉयसायकल वितरित की गई। शिविर में मौजूद सहकारिता मंत्री श्री दयालदास बघेल ने अपने कर-कमलों से विभिन्न योजनाओं के हितग्राहियों को सामाग्रियॉ वितरित की। शिविर में उपस्थित ग्रामीणजनों को संबोधित करते हुए सहकारिता मंत्री श्री दयालदास बघेल ने कहा कि शिविर में अपेक्षाकृत विभागों को बहुत कम आवेदन मिले है। उन्होंने कहा कि लोग अधिक से अधिक आवेदन विभागों को प्रस्तुत करें, और अधिकारियों से संपर्क कर इसका निराकरण भी कराएं। जब तक उनकी समस्या का निराकरण न हो जाए तब तक वे इस ओर अधिकारियों का ध्यान आकृष्ट करते रहें। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार के मुखिया मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने अल्पवर्षा से उत्पन्न स्थिति को ध्यान में रखते हुए किसानों के हित में बड़ा फैसला करते हुए उन्हें धान बिक्री विक्रय का 300 रूपए प्रति क्ंिवटल बोनस देने का निर्णय किया है। मुख्यमंत्री जी के मंशानुसार सभी जिलों में बोनस तिहार का आयोजन कर किसानों के बैंक खातों में ऑनलाईन ट्रांजेक्शन के जरिए राशि जमा करा दी गई है। क्षेत्र के किसान भाई जिनको बोनस राशि मिल रही है। वे संबंधित बैंक शाखा से संपर्क कर राशि ले सकते है। उन्होंने कहा कि किसानों के सुख-दुख में सरकार उनके साथ है। किसानों को किसी प्रकार की चिंता करने की जरूरत नहीं है। सहकारिता मंत्री ने राष्ट्रीय स्वास्थ्य बीमा, मुख्यमंत्री स्वास्थ्य बीमा येाजना, सौर सुजला योजना, मुख्यमंत्री विद्युत विस्तार योजना और प्रधानमंत्री आवास योजना को विस्तार पूर्वक रेखांकित करते हुए अवगत कराया कि वर्ष 2022 तक सबके लिए पक्का मकान होगा। उन्होंने ग्राम पंचायत के सरपंचों से कहा कि वे प्रधानमंत्री आवास योजनांतर्गत गांवों में कालोनी विकसित करें। इसके अंतर्गत आवास के हितग्राहियों के लिए आवास निर्माण एक क्रम में किया जाये। उन्हांेने क्षेत्र में पी.एच.ई. प्रोजेक्ट और अन्य निर्माण कार्य एजेन्सी विभागों के द्वारा कराई जा रही कार्याें पर अप्रसन्नता व्यक्त करते हुए संबंधित विभाग के अधिकारियों को कार्याें को गुणवत्ता युक्त तथा समयावधि में शीघ्र पूर्ण करने के निर्देश दिए। सहकारिता मंत्री ने लंबित आवेदनों का निराकरण निर्धारित समयावधि में करने अधिकारियों को निर्देशित करते हुए लोगों को भरोसा दिलाया कि उनके सभी लंबित आवेदन का निराकरण समयावधि में पूर्ण होंगे। शिविर में अपर कलेक्टर श्री एस.आर. महिलांग, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री एस. आलोक, एस.डी.एम. श्री आर.पी. आंचला, डिप्टी कलेक्टर श्री सी.पी. बघेल, प्रभारी तहसीलदार श्री शुक्ला, जनपद सी.ई.ओ. श्री विनायक शर्मा, सहित समस्त विभाग के अधिकारी तथा जनपद पंचायत के अध्यक्ष श्री टारजन साहू, जिला पंचायत एवं जनपद पंचायत के सदस्यगण और ग्राम पंचायत के पंचायत प्रतिनिधि तथा बड़ी संख्या में लोग उपस्थित थे।