भारतीयों के लिए खुले जापान के दरवाज़े, 2 लाख IT प्रफेशनल्स को मिलेगी नौकरी

आईटी सेक्टर में काम करने वाले लोगों के लिए बड़ी खुशखबरी. जापान देने जा रहा है 2 लाख भारतीय आईटी प्रफेशनल्स को नौकरी. इन लोगों को वहां रहने के लिए जापान में ग्रीन कार्ड भी देगा. खबरों के मुताबिक जापान ट्रेड ऑर्गनाइजेशन (JETRO) के वाइस प्रेसिडेंट शिगेकी मेडा ने ये जानकारी दी है.

इंडिया-जापान बिजनस पार्टनरशिप सेमिनार में उन्होंने कहा कि इस समय देश में करीब 9,20,000 आईटी प्रफेशनल्स हैं और भारत से 2,00,000 से अधिक आईटी प्रफेशनल्स की तुरंत जरूरत है. यह आगे और बढ़ेगा और 2030 तक यह संख्या 8 लाख तक पहुंच सकती है.

इस वजह से बढ़ रही है आईटी प्रोफेशनल्स की जरूरत
उन्होंने कहा कि देश की सामाजिक आवश्यकताओं में टेक्नॉलजी और इनोवेशन का इस्तेमाल तेज होने की वजह से यह जरूरत पड़ी है. जापान खाली जगहों को भरना चाहता है और आईटी स्पेश में भारत के सहयोग की अपेक्षा करता है.

वीजा के नियमों में जापान करने वाला है ये बदलाव
उन्होंने कहा कि जापान की सरकार अधिक स्किल्ड प्रफेशनल्स के लिए दुनिया में अपनी तरह का पहला ग्रीन कार्ड जारी करेगी. एक साल के भीतर ही स्थायी निवासी का स्टेटस मिल सकेगा. यह दुनिया का सबसे तेज निवास का अधिकार है. जहां तक वीजा जारी करने की बात है तो जापान ने 1 जनवरी 2018 से भारतीय यात्रियों के लिए नियमों को आसान कर दिया है.