भारत को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 2 सफलता मिलीं : india vs australia

भारत के खिलाफ खेली जाने वाली पांच वनडे मैचों की सीरीज से पहले ऑस्ट्रेलियाई टीम बोर्ड अध्यक्ष एकादश के खिलाफ मंगलवार को चेन्नई के एम. चिदम्बरम स्टेडियम अभ्यास मैच खेलने उतर चुकी है. स्टीवन स्मिथ की कप्तानी वाली टीम भारत के खिलाफ पांच वनडे मैचों की सीरीज और तीन टी-20 मैचों की सीरीज के लिए भारत दौरे पर है. चेपॉक के मैदान पर पहली पारी के औसत 237 के स्कोर के देखते हुए अभ्यास मैच में बड़ा स्कोर शायद न हो. इस दौरान भारत के अधिकतर खिलाड़ी दिलीप ट्रॉफी में व्यस्त हैं. बोर्ड अध्यक्ष की टीम ज्यादा मजबूत नहीं है. टीम की कमान पंजाब के बल्लेबाज गुरकीरत सिंह मान के हाथों में है. उनके अलावा श्रीवत्स गोस्वामी, राहुल त्रिपाठी, मयंक अग्रवाल और नीतीश राणा जैसे खिलाड़ी हैं 20 ओवर में ऑस्ट्रेलिया का स्कोर 2 विकेट के नुकसान पर 118 रन हैं. भारत को दूसरी सफला मिली. कुशांग पटेल ने वॉर्नर को पवेलियन लौटाया. 48 गेंदों पर 64 रन बनाकर डेविड वॉर्नर आउट हुए.  8 ओवर के बाद ऑस्ट्रेलिया का स्कोर 1 विकेट के नुकसान पर 44 रन है. ओपनर डेविड वॉर्नर क्रीज पर जमे हुए हैं. पांच ओवर के बाद ऑस्ट्रेलिया का स्कोर 1 विकेट के नुकसान पर 24 रन है. भारतीय टीम को ऑस्ट्रेलिया का पहला विकेट मिल चुका है. ओपनर कैटराइट बिना खाता खोले पवेलियन लौट चुके हैं. आवेश खान ने भारत को पहली सफलता दिलवा दी है.
कौन है आवेश खान मध्यप्रदेश के इंदौर में रहने वाले 19 साल के 6 फीट 2 इंच लंबे इस खिलाड़ी का नाम इससे पहले पिछले अंडर-19 वर्ल्ड कप के दौरान उभरा था, जब उन्होंने 139.8 किमी की रफ्तार से गेंद फेंककर सबको चौंका दिया था.
इन-स्विंग और आउट-स्विंग दोनों में माहिर हैं आवेश भारत के विस्फोटक बल्लेबाज और अवेश के कोच अमय ने बताया कि उनकी स्पीड 140 किमी तक है और वे अपनी लंबाई और मजबूत कंधों की वजह से इससे अधिक की गति से भी गेंदबाजी कर सकते हैं. इन-स्विंग और आउट-स्विंग दोनों में अवेश को महारत हासिल है, जो उन्हें विशिष्ट गेंदबाज बनाती है. वे यॉर्कर और स्लोअर गेंदे भी फेंक लेते हैं. वॉर्म अप मैच में ऑस्ट्रेलिया ने टॉस जीत लिया है और पहले बल्लेबाजी का फैसला लिया है. अनुभवहीन टीम से ऑस्ट्रेलिया का मुकाबला भारत जैसी मजबूत टीम के खिलाफ कड़ी परीक्षा से पहले एक अनुभवहीन टीम का सामना करना किसी भी टीम के लिए आदर्श तैयारी नहीं माना जाएगा लेकिन ऑस्ट्रेलिया बोर्ड अध्यक्ष एकादश की कमजोर मानी जा रही टीम के खिलाफ आगे की चुनौतियों को ध्यान में रखकर पूरी तैयारियों के साथ उतरेगी.
ऑस्ट्रेलिया की टीम को जिन खिलाड़ियों का सामना करना है उनमें केवल गुरकीरत मान ही ऐसे खिलाड़ी हैं, जिन्होंने अंतरराष्ट्रीय मैच खेले हैं. उन्होंने 2016 के शुरू में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ ही तीन वनडे खेले थे और उसके बाद टीम में वापसी नहीं कर पाए. कौन हैं गुरकीरत सिंह पंजाब के मुक्तसर के रहने वाले गुरकीरत डोमेस्टिक क्रिकेट में पंजाब की टीम से खेलते हैं और इंडिया ए टीम के रेगुलर मेंबर हैं. वे टीम इंडिया के लिए 3 वनडे अंतरराष्ट्रीय भी खेल चुके हैं. एक इंटरव्यू में गुरकीरत ने बताया था कि जब वे नौ साल के थे, तब मोहाली स्टेडियम के पास ही रहते थे. वे रोजाना खिलाड़ियों को प्रैक्टिस करते हुए देखने के लिए वहां जाते थे. वहां क्रिटर्स को करीब से खेलते देखकर उनका मन भी इस खेल में आकर्षित हो गया और उन्होंने भी ट्रेनिंग लेना शुरू कर दिया. गुरकीरत ने अपने फर्स्ट क्लास करियर में 34 मैच खेलकर 2140 रन बनाए हैं और 37 विकेट भी लिए हैं. प्रथम श्रेणी क्रिकेट में गुरकीरत का औसत 44.58, नीतीश का 41.78 है जबकि श्रीवत्स का 32.52 है. लिस्ट ए करियर में गुरकीरत ने 63 मैच खेले हैं, जिसमें उन्होंने 2099 रन बनाने के अलावा 20 विकेट भी लिए हैं. टी-20 करियर में उन्होंने 69 मैच खेलकर 1009 रन बनाए हैं और 6 विकेट लिए हैं. इंडिया ए के लिए किया जबरदस्त परफॉर्म
साल 2014 में ट्राइ सीरीज के फाइनल में वे इंडिया ए टीम की ओर खेलते हुए 81 बॉल पर 87 रन बनाकर स्टार बन गए थे. ऑस्ट्रेलिया ए के खिलाफ खेले गए उस फाइनल में 227 रन के टारगेट का पीछा करते हुए इंडिया ए टीम के चार विकेट सिर्फ 82 रन पर ही गिर गए थे. इसके बाद बैटिंग करने उतरे गुरकीरत ने शानदार परफॉर्म करते हुए टीम को जीत दिलाई थी.
गुरकीरत सबसे पहले साल 2011 में सबकी नजरों में आए थे, जब उन्होंने पंजाब अंडर-22 टीम के साथ मिलकर सीके नायडू ट्रॉफी जीती थी. गेंजबाजी की कमान संदीप शर्मा के हाथों में टीम में गेंदबाजी आक्रमण की जिम्मेदारी संदीप शर्मा पर होगी. वहीं, ऑफ स्पिनर वॉशिंगटन सुंदर पर सभी की नजरें होंगी. उन्होंने इसी साल इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में राइजिंग पुणे सुपरजाएंट्स के लिए खेलते हुए अपनी स्पिन से सभी को प्रभावित किया था. वहीं ऑस्ट्रेलियाई टीम के कप्तान स्मिथ की कोशिश इस अभ्यास मैच में अपनी टीम को परखने की होगी. वह देखना चाहेंगे की कौन से खिलाड़ी भारतीय परस्थितियों में बेहतर कर सकते हैं. साथ ही यह अभ्यास मैच आस्ट्रेलिया को भारतीय हालात से वाकिफ होने का मौका देगा.
कप्तान के अलावा सलामी बल्लेबाज डेविड वॉर्नर, ग्लैन मैक्सवेल, एरॉन फिंच, बोर्ड एकादश के खिलाफ अपने बल्ले की धार को आजमाएंगे.  वहीं जोश हेजलवुड, नाथन कल्टर नाइल, एडम जाम्पा के पास अपनी तैयारी करने का यह बेहतरीन मौका है. टीमें : भारतीय बोर्ड अध्यक्ष प्लेइंग इलेवन : गुरकीरत सिंह मान (कप्तान), श्रीवत्स गोस्वामी (विकेटकीपर), राहुल त्रिपाठी, मयंक अग्रवाल, शिवम चौधरी, वॉशिंगटन संदुर, नीतीश राणा, गोविंदा पोद्दार, राहिल शाह, अक्षय कारनेवार, कुलवंत खेजरोलिया, कुशांग पटेल, अवेश खान, संदीप शर्मा.
ऑस्ट्रेलिया : स्टीवन स्मिथ (कप्तान), मैथ्यू वेड (विकेटकीपर), डेविड वार्नर, एश्टन अगर, हिल्टन कार्टराइट, नाथन कल्टर नाइल, पैट कमिंस, जेम्स फॉल्कनर, एरॉन फिंच, जोश हेजलवुड, ट्रेविस हेड, ग्लैन मैक्सवेल, मार्कस स्टोइनिस, एडम जाम्पा.