भारत ने अमेरिका के उत्पादों पर बढ़ाया आयात शुल्क

नई दिल्ली। अमेरिका और चीन के बीच जारी ट्रेड वॉर के बीच भारत ने एक बड़ा कदम उठाया है। एक सरकारी नोटिस के जरिए सामने आई इस जानकारी के अनुसार भारत ने 30 अमेरिकी उत्पादों पर आयात शुल्क में वृद्धि कर दी है। इनमें कृषि के अलावा स्टील, लोहे के उत्पाद शामिल हैं। भारत ने इस शुल्क को 70 फीसद तक बढ़ाया है जो 4 अगस्त से लागू हो जाएगा।

ऐसा करके भारत ने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के उस कदम का जवाब दिया है जिसमें उन्होंने स्टील और एल्युमिनयम के उत्पादों पर शुल्क लगाया था। इस जवाबी पलटवार ने उसे यूरोपीय यूनियन और चीन की कतार में खड़ा कर दिया है।

बुधवार को जारी किए गए टैरिफ रेट्स में भारत के वाणिज्य मंत्रालय ने कुछ विशेष किस्म के सेबों, बादाम, छोले, मसूर, अखरोट और आर्टेमिया के ऊपर ऊंची दर पर शुल्क लगाने का फैसला किया है। इनमें से अधिकांश चीजें अमेरिका से आयात की जाती हैं।

भारत ने कुछ किस्म के लोहे एवं इस्पात उत्पादों पर भी आयात शुल्क में इजाफा किया है। पिछले महीने, भारत ने विश्व व्यापार संगठन में स्टील एवं एल्युमिनियम पर शुल्क में इजाफा करने के अमेरिका के फैसले खिलाफ एक शिकायत दर्ज कराई थी।

हालांकि, अमेरिका से आयातित मोटरसाइकिलों पर शुल्क नहीं बढ़ाया गया है। अमेरिका ने हाल ही में चुनिंदा इस्पात एवं एल्युमिनियम उत्पादों पर आयात शुल्क बढ़ा दिया था। इससे भारत पर 24.1 करोड़ डॉलर (करीब 1650 करोड़ रुपये) का शुल्क बोझ पड़ा था। भारत ने इसी के जवाब में ये शुल्क लगाए हैं।

गौरतलब है स्टील एवं एल्युमिनियम पर अमेरिका की ओर से बढ़ाई गई इंपोर्ट ड्यूटी का यूरोपीय यूनियन और चीन दोनों ने विरोध किया था। जवाबी कार्यवाही में चीन ने भी अमेरिका के कई उत्पादों पर इंपोर्ट ड्यूटी बढ़ाने का फैसला किया था।

आपको बता दें कि भारत सरकार की ओर से यह कदम ऐसे समय में उठाया गया है जब हाल ही में यूरोपियन यूनियन (ईयू) ने अमेरिका से आने वाले तमाम प्रोडक्ट्स (उत्पादों) पर ऊंची दर पर आयात शुल्क लगाने का फैसला किया था।