मंगल के ‘दिल’ को पढ़ने की तैयारी में नासा, इसी हफ्ते भेजेगा पहला मिशन

लॉस एंजिलिस: मंगल की अंत: संरचना के अध्ययन के लिए नासा का पहला मिशन इसी हफ्ते उड़ान भरेगा. अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी ने यह जानकारी दी. भूकंपीय जांच, भूमंडल को मापने के शास्त्र और ऊष्मा के आवागमन (इनसाइट) का इस्तेमाल करते हुए इंटीरियर एक्प्लोरेशन अमेरिका के वेस्ट कोस्ट से जाने वाला पहला ग्रहीय मिशन है.

अमेरिका के अधिकतर अंतरग्रहीय मिशन फ्लोरिडा में कैनेडी स्पेस सेंटर (केएससी) से रवाना होते हैं जो देश के ईस्ट कोस्ट में स्थित है. यह गहन अंतरिक्ष में क्यूबसेट तकनीक का पहला परीक्षण होगा. यह ऐसी डिजाइन है जो भविष्य के मिशनों के लिये नयी संचार और नौवहन क्षमताओं को परखेगी और इनसाइट संचार को बढ़ावा दे सकती है.

इनसाइट को पांच मई को सुबह सात बजकर पांच मिनट (भारतीय समयानुसार शाम चार बजकर 35 मिनट) पर कैलिफोर्निया में वांडेनबर्ग वायुसैनिक अड्डे के स्पेस लॉन्च कॉप्लेक्स -3 से यूनाइटेड लॉन्च अलाइंस (यूएलए) एटलस पांच रॉकेट से छोड़ा जाएगा. यह मंगल की गहन अंत: संरचना का अध्ययन करेगा कि कैसे पृथ्वी और उसके चंद्रमा समेत सभी चट्टानी गृह बने.

जिम ब्रिडेनस्टीन नासा के 13वें प्रशासक बने
इससे पहले बीते 23 अप्रैल को अमेरिका के उपराष्ट्रपति माइक पेंस ने जिम ब्रिडेनस्टीन को अंतरिक्ष एजेंसी नासा के 13वें प्रशासक के रूप में शपथ दिलाई है. ओकलाहोम से रिपब्लिकन प्रतिनिधि ब्रिडेनस्टीन ने नासा में अपनी नई भूमिका के लिए सोमवार को प्रतिनिधिसभा से इस्तीफा दे दिया. नासा का प्रशासक नियुक्त किए जाने वाले वह पहले राजनेता हैं.

ब्रिडेनस्टीन ने सोमवार (23 अप्रैल) को कहा, “नासा अमेरिका का सर्वश्रेष्ठ प्रस्तुत करती है. हम नेतृत्व करते हैं, हम खोजते हैं, हम मार्गदर्शन करते हैं और प्रेरित करते हैं.” वॉशिंगटन स्थित नासा मुख्यालय में उपराष्ट्रपति पेंस ने ब्रिडेनस्टीन को पद की शपथ दिलाई.

इस दौरान पेंस ने कहा, “अमेरिका के राष्ट्रपति की तरफ से यहां आना सम्मान की बात है. जिम ब्रिडेनस्टीन के शपथ लेते ही अमेरिकी अंतरिक्ष कार्यक्रम को नया नेतृत्व मिलेगा.” शपथ ग्रहण समारोह के दौरान पेंस और ब्रिडेनस्टीन ने अंतर्राष्ट्रीय अंतरिक्ष केंद्र में मौजूद नासा के अंतरिक्ष यात्रियों स्कॉट टिंगल, ड्रियू फ्यूस्टेल और रिकी अर्नोल्ड से बात की.