मंत्रिमंडल विस्तार देवउठनी एकादशी के बाद होने के आसार

लंबे समय से प्रस्तावित मंत्रिमंडल विस्तार एक बार फिर दीपावली तक टल सकता है। इसकी वजह है भोपाल में 12 से 14 अक्टूबर तक होने वाली संघ की अखिल भारतीय कार्यकारिणी की बैठक। बैठक में शामिल होने के लिए संघ प्रमुख मोहन भागवत भी भोपाल में रहेंगे, जिसे देख्ाते हुए अब दीपावली या एकादशी के बाद मंत्रिमंडल में फेरबदल होने के आसार हैं।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने नवरात्र के बाद मंत्रिमंडल विस्तार की घोषणा कुछ दिनों पहले की थी। इसके बाद से ही प्रदेश की सियासत गर्म है। मंत्री पद के दावेदार दिल्ली – भोपाल के चक्कर काट रहे हैं। पार्टी के उच्च पदस्थ सूत्रों का कहना है कि दीपावली या देव उठनी ग्यारस के बाद मंत्रिमंडल विस्तार हो सकता है।

फिलहाल इस मसले को टालने की वजह प्रदेश में संघ नेताओं का जमावड़ा बताया जा रहा है। सरकार नहीं चाहती कि किसी तरह का माहौल बिगड़े । संघ का दबाव कुछ मंत्रियों को हटाने का भी है जिनमें महाकौशल के एक प्रभावी मंत्री भी शामिल हैं। उक्त मंत्री कांग्रेस से भाजपा में आए थे। कैबिनेट में शामिल किए जाने के दौरान भी इनको लेकर भारी विवाद हुआ था । 2018 के चुनाव से पहले का ये आखिरी विस्तार होगा, इसलिए सीएम और पार्टी चाहती है कि कैबिनेट का चेहरा ऐसा हो जिसे देखकर चुनाव जीता जा सके।