मनोज कुमार और मंदीप जांगरा ने सोमवार को यहां आयोजित दूसरी इलीट राष्ट्रीय पुरुष मुक्केबाजी चैम्पियनशिप में स्वर्ण पदक हासिल किया

मनोज कुमार और मंदीप जांगरा ने सोमवार को यहां आयोजित दूसरी इलीट राष्ट्रीय पुरुष मुक्केबाजी चैम्पियनशिप में स्वर्ण पदक हासिल किया लेकिन शिवा थापा को चौंकाने वाली हार का सामना करना पड़ा. शिवा को एसएससीबी के मनीष कौशिक ने हराया लेकिन मनोज ने 69 किग्रा और मंदीप ने 75 किग्रा वर्ग में स्वर्णिम सफलता हासिल की. लाइटवेट फाइनल में विश्व चैम्पियनशिप में कांस्य पदक जीतने वाले थापा को मनीष के हाथों चौंकाने वाली हार मिली. थापा ने काफी सावधान शुरुआत की और कुछ अच्छे पंच लगाए लेकिन दूसरे राउंड में शानदार वापसी की. दूसरे राउंड में मनीष ने कई बेहतरीन हुक और अपरकट लगाए. इससे असम के थापा का आत्मविश्वास हिल गया. मनीष के एक हिट के कारण थापा की आंख के ऊपर कट भी लगा और इसी कारण रेफरी को मुकाबला रोकना पड़ा. मुकाबला दोबारा शुरू हुआ तो थापा अपने 100 फीसदी लय में नहीं थे लेकिन वह पूरी तरह हथियार डालने को भी तैयार नहीं थे.तीसरा और अंतिम राउंड काफी कड़ा हुआ. दोनों मुक्केबाजों ने बेहतरीन खेल दिखाया. मनीष ने थापा से दूरी बनाए रखने की रणनीति अपनाई और उन पर जैब तथा हुक बरसाते रहे. इसी का नतीजा था कि वे यह मुकाबला 4-1 से जीतने में सफल रहे. वेल्टरवेट कटेगरी में मनोज ने एसएससीबी के दुर्योधन सिंह को हराया. आरएसपीबी के मनोज ने पहले राउंड में सिंह की एक भी न चलने दी लेकिन दूसरे राउंड में सिंह ने शानदार वापसी की और कुछ अच्छे पंच लगाए.सिंह के पंच शानदार थे और यही कारण था कि मैच तीसरे राउंड तक खिंचा. इस राउंड में भी सिंह ने हमला जारी रखा लेकिन वह मनोज के अनुभव के आगे हार गए. मिडिलवेट कटेगरी में मंदीप ने मिजोरम के वानलिमपुइया को 5-0 से हराया.