मिताली के कोच ने कहा: मिताली और तेंदुलकर पैदा होते हैं, तैयार नहीं किये जाते

हैदराबाद: महिला वनडे में सर्वाधिक रन बनाने की उपलब्धि हासिल करने वाली भारतीय महिला टीम की कप्तान मिताली राज के कोच अपनी शिष्या के विश्व रिकॉर्ड से इतने आह्लादित हैं और उन्होंने इस बल्लेबाज की तुलना सचिन तेंदुलकर से कर दी.

कोच आरएसआर मूर्ति ने मिताली की उपलब्धि पर खुशी जतायी. उन्होंने कहा, ‘मिताली और तेंदुलकर, ये बनाये नहीं जाते. यह पैदा होते हैं.’ मिताली ने महिला वनडे में 6000 रन बनाने वाली पहली महिला क्रिकेटर बन गयी हैं. उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ आईसीसी विश्व कप मैच के दौरान यह उपलब्धि हासिल की. मिताली जब 2000 में रेलवे से जुड़ी थी तभी से मूर्ति उनके कोच हैं.

उन्होंने कहा, ‘‘यह बड़ी उपलब्धि है. मैं बहुत खुश हूं. अपनी कड़ी मेहनत और समर्पण से उसने यह उपलब्धि हासिल की है. मैं उसे शुभकामनाएं देता हूं कि वह अपने करियर में आगे और उपलब्धियां हासिल करे. वह केवल देश में नहीं बल्कि विश्व भर में आदर्श बन गयी है.’ मिताली के पिता दोराई राज भी अपनी बेटी की उपलब्धि पर बेहद खुश हैं.

उन्होंने कहा, ‘एक पिता होने के नाते मैं क्या कह सकता हूं. मैं उसके लिये बहुत खुश हूं. वह कड़ी मेहनत करती है. वह हमेशा अपने खेल पर ध्यान देती है. उसका दिनचर्या इसी तरह से है. यहां तक कि उसके ज्यादा दोस्त क्रिकेटर हैं. मिताली अपने खेल और फिटनेस में सुधार करने के लिये अपनी दिनचर्या का अच्छी तरह से अनुसरण करती है.’ क्रिकेट कोचिंग से जुड़े दोराई राज ने कहा कि मिताली हर दिन मैच से पहले उनसे बात करती है और वह उसे सलाह देते हैं, लेकिन फैसला उसी पर छोड़ देते हैं.