मुंबई में भर्ती परीक्षा के लिए पहुंचे उम्मीदवार, एनजीओ-पुलिसवालों ने की रहने की व्यवस्था

मुंबई। बादलों की गड़गड़ाहट के बीच सोमवार की रात मुंबई में भारी बारिश हुई। मगर, शुक्र है कि हजारों की तादात में मुंबई में पुलिस की परीक्षा देने आए उम्मीदवारों के सिरों पर छत थी। नई दुनिया के सहयोगी अखबार मिड-डे ने इस एक महीने पहले ही यह बताया था कि भर्ती प्रक्रिया के दौरान आने वाले अभ्यार्थियों को सड़कों पर सोने के लिए मजबूर होना पड़ता है।

लिहाजा, पुलिस विभाग ने अब उम्मीदवारों के लिए फ्री में रहने की सुविधा मुहैया कराने के लिए स्थानीय कम्युनिटी रिसोर्स के साथ करार किया है। इसका नतीजा यह रहा कि पुलिस की परीक्षा देने आने वाले अभ्यार्थियों को बारिश की वजह से परेशानी का सामना नहीं करना पड़ा।

सूत्रों ने बताया कि आज पुलिस भर्ती प्रक्रिया में लिखित परीक्षा के लिए 32,419 उम्मीदवार उपस्थित होंगे। परीक्षा सुबह 11 बजे से दोपहर 12.30 बजे के बीच आयोजित की जाएगी। इसके चलते उम्मीद थी कि कई उम्मीदवार एक दिन पहले ही शहर आएंगे। पुलिस विभाग ने सोमवार रातभर उनके ठहरने की व्यवस्था की थी। उम्मीदवारों को 12 जोनों में 69 विभिन्न केंद्रों में भेजा गया था और हर जगह आवास व्यवस्था थी।

ज्वाइंट सीपी (प्रशासन) संतोष रास्तोगी ने कहा कि हमने प्रत्येक क्षेत्र में लोकल रिसोर्स से संपर्क किया और बाहरी उम्मीदवारों के लिए रात में ठहरने की व्यवस्था की, जो मुंबई में आवास नहीं ढूंढ़ सकते थे। बताते चलें कि मिड-डे इसके पहले बताया था कि अप्रैल में फिजिकल फिटनेस टेस्ट के लिए शहर में आने वाले उम्मीदवारों को कितनी कठिनाइयों का सामना करना पड़ा था।

लगभग हर उम्मीदवार ने रात फुटपाथ पर सोते हुए बिताई थी। वहीं, कुछ उम्मीदवारों को ऐरे कॉलोनी फॉरेस्ट में खुले में सोने को मजबूर होना पड़ा था, जहां जंगली जानवरों के आने का खतरा रहता है। खबर में महिला उम्मीदवारों को हुई परेशानी के बारे में भी बताया गया था। निरंतर कवरेज ने पुलिस को इन उम्मीदवारों के लिए आवास की व्यवस्था करने के लिए प्रेरित किया।