मुंबई-हावड़ा ट्रेन की कपलिंक टूटी, महज 4 डिब्बों के साथ 500 मीटर तक चला गया इंजन

जांजगीर।वीकली स्पेशल ट्रेन मुंबई-हावड़ा ट्रेन सोमवार को सुबह करीब 10:05 बजे महज 4 डिब्बों के साथ दौड़ती नजर आई। इंजन से काफी दूर पीछे 15-16 बोगियां लुढ़कती आ रही थीं। घटना की सूचना मिलते ही ट्रेन को रोका गया और मौके पर रेलवे की टीम पहुंची। बता चलता कि कपलिंक टूटने से ट्रेन 4 डिब्बों के साथ आगे बढ़ गई थी। कपलिंक रिपेयर कर करीब 11:15 बजे ट्रेन को आगे के लिए रवाना किया गया।

रविवार को मुंबई के शिवाजी टर्मिनल से हावड़ा के लिए रवाना साप्ताहिक ट्रेन सोमवार को सुबह 8 बजे बिलासपुर स्टेशन पहुंची। इस वक्त वो करीब 1 घंटा लेट थी।

– बिलासपुर से 9 बजे वो छूटी। उसे 11 बजे झारसगुड़ा स्टेशन पहुंचना था, लेकिन सारागांव के पास ही सुबह करीब 10:05 बजे ट्रेन की कपलिंक टूट गई।

– इससे 15-16 बोगियां पीछे रह गईं। ट्रेन 4 डिब्बों के साथ आगे बढ़ गई। करीब 500 मीटर दूर पहुंचने के बाद ड्राइवर को तुरंत सूचित किया गया। इधर बाकी के डिब्बे करीब 200 मीटर तक सरकते गए और अपने आप रुक गए।

– इस घटना के चलते यात्रियों में हड़कंप मच गया। सूचना पर रेलवे के कर्मचारी मौके पर पहुंचे और ट्रेन के इंजन को बैक कराकर कपलिंक जोड़ी गई। इसके बाद करीब 11:15 बजे ट्रेन को आगे के लिए रवाना किया गया।

गुस्साए यात्रियों ने रेलवे मुर्दाबाद के नारे लगाए

– इस घटना से यात्रियों में काफी गुस्सा था। वे पटरी पर बैठ गए और रेलवे प्रशासन मुर्दाबाद का नारा लगाने लगे।

– जब कंपलिंक जोड़ा गया तब जाकर माहौल शांत हुआ और ट्रेन रवाना की जा सकी।