मुंबई: 4 स्थानों पर लगेंगी सैंसरलैस अंडरग्राउंड कचरा पेटियां, ऐसे करेंगी काम

मुंबई। खुली कचरा पेटियों से आने वाली बदबू से निजात दिलाने के लिए बृहनमुंबई म्यूनिसिपल कॉरपोरेशन ने कमर कस ली है। अब बीएमसी शहर के कई स्थानों पर गड्ढे खोदकर उनमें कचरा पेटियां रखेगा। ये कचरा पेटियां सेंसरलैस होंगी।

पायलट प्रोजेक्ट के तहत दक्षिण मुंबई के अलग-अलग चार स्थानों पर सेंसरलैस कचरा पेटियां लगाई जाएंगी। कचरा पेटियां इसलिए भी खास होंगी, क्योंकि इसके भरते ही बीएमएसी के अफसरों को जानकारी मिल जाएगी। बीएमसी ने शहर के अलग-अलग इलाकों में ऐसी 4 पेटियां लगाने के लिए टेंडर भी जारी कर दिए हैं।

बीएमएसी अधिकारियों की मानें तो इस प्रोजेक्ट का पहला चरण इस साल के अंत में पूरा हो जाएगा। पायलट प्रोजेक्ट की कामयाबी के बाद इसे मुंबई के अलग-अलग हिस्सों में लगाने का फैसला लिया जाएगा।

बीएमसी के एक अधिकारी ने बताया कि, खुले में पड़ी कचरा पेटियों से आसपास के इलाकों में बदबू फैलती है। ऐसे में ये अंडरग्राउंड कचरा पेटियां बदबू से तो निजात दिलाएंगे, वहीं स्वास्थ्य के लिहाज से भी काफी कारगर साबित होंगे। क्योंकि खुले में कचरा पड़ा होने की वजह से कई तरह की बीमारियां फैलती हैं।

अंडरग्राउंड कचरा पेटियों को लगाने के लिए गहरे गड्ढे खोदे जाएंगे। जिसके बाद इन पेटियों को उसमें उतारा जाएगा। इन पेटियों को फुटपाथों पर लगाया जाएगा, ताकि राह चलते लोग सड़कों पर कचरा फेंकने के बजाए इसमें कचरा डालें। सेंसरलैस होने की वजह से पेटियों में कचरा भरते ही बीएमसी के अफसरों को इसकी जानकारी पहुंच जाएगी। इन पेटियों को खाली कर दिया जाएग और कचरे को एक लैंडफिल साइट पर भेज दिया जाएगा।