मूवी जब वि मेट में मिला था बॉबी देओल को इतना बड़ा धोका जानिए पूरी खबर

शाहिद कपूर और करीना कपूर के लिए फिल्म ‘जब वी मेट’ मील का पत्थर साबित हुई थी। यह फिल्म जबरदस्त हिट हुई थी। आज इस फिल्म को रिलीज हुए 10 साल हो चुके हैं। साल 2007 में आई इस फिल्म में शाहिद और करीना की जोड़ी ने धमाल मचाया था।

फिल्म के लिए करीना कपूर को फिल्मफेयर का बेस्ट एक्ट्रेस का अवॉर्ड मिला था। फिल्म की ज्यादातर शूटिंग हिमाचल प्रदेश और उसके आसपास के एरिया में हुई थी। दर्शकों को बड़बोली गीत और गंभीर-शांत आदित्य कश्यप बेहद पसंद आए थे।

आज हम आपको इस फिल्म के बारे में कुछ ऐसा बताने जा रहे हैं जो आपने पहले कभी नहीं सुना होगा। मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो डायरेक्टर इम्तियाज अली ने जब ये फिल्म लिखी थी तो उन्होंने इसमें बॉबी देओल को कास्ट करने का फैसला किया था।

उस समय बॉबी देओल की ‘हमराज’ और ‘अजनबी’ जैसी फिल्में हिट हुई थीं। हालांकि ये मल्टीस्टारर फिल्में थीं। ‘जब वी मेट’ के लिए इम्तियाज की पहली पसंद बॉबी ही थे। दरअसल, बॉबी ने इम्तियाज की फिल्म ‘सोचा ना था’ देखी थी।

इस फिल्म में बॉबी देओल के कजिन अभय देओल ने काम किया था। बॉबी को ये फिल्म बहुब पसंद आई और वो इम्तियाज से मिलने पहुंच गए। बॉबी ने इम्तियाज से कहा कि वो उनके साथ काम करना चाहते हैं। तब इम्तियाज ने उन्हें ‘जब वी मेट’ की स्क्रिप्ट दिखाई।

उस वक्त इम्तियाज ने इस फिल्म का नाम ‘गीत’ रखा था। इम्तियाज ने ये फिल्म बॉबी को ऑफर कर दी। अब उन्हें एक हीरोइन की जरूरत थी। इसलिए बॉबी ने अपनी कोस्टार रह चुकी करीना कपूर को गीत के रोल के लिए सजेस्ट किया।

इम्तियाज और प्रोड्यूसर्स ने फिल्म के लिए करीना कपूर से कॉन्टैक्ट किया। लेकिन करीना ने ये फिल्म करने से मना कर दिया। वो इम्तियाज से मिलना तक नहीं चाहती थीं। तब बॉबी ने इम्तियाज को अपनी एक और कोस्टार प्रीति जिंटा का नाम सजेस्ट किया।

प्रीति ये फिल्म करने के लिए तैयार हो गईं। लेकिन डेट ना होने की वजह से शू‌टिंग शुरू नहीं हो पाई। ये प्रोजेक्ट लंबे समय तक लटका रहा और दिन बीतते गए। फिर अचानक बॉबी ने कहीं पढ़ा कि अष्टविनायक प्रोडक्‍शन ने इम्तियाज अली को ‘जब वी मेट’ के लिए साइन किया है।

साथ ही फिल्म में करीना और उनके ब्वॉयफ्रेंड शाहिद कपूर को साइन किया गया है। ये पढ़कर बॉबी ने कहा WOW. क्या इंडस्ट्री है। इसके बाद इम्तियाज ने बॉबी को फिल्म ‘हाईवे’ ऑफर की थी। लेकिन बाद में उन्हें हटाकर रणदीप हुड्डा को साइन कर लिया।

इससे ये तो साफ जाहिर होता है कि अगर बॉबी ये फिल्म करते तो उनका करियर कभी नहीं रुकता। साथ ही ये भी पता चल रहा है कि शायद करीना बॉबी के साथ काम नहीं करना चाहती थीं। इसलिए उन्होंने ये फिल्म अपने एक्स ब्‍वॉयफ्रेंड शाहिद दिलवा दी थी।