मैथ्यूज ने छोड़ी कप्तानी, चंदीमल और थरंगा संभालेंगे जिम्मेदारी

कोलंबो: जिम्बाब्वे के हाथों एकदिवसीय श्रृंखला में शर्मनाक हार के बाद कप्तानी छोड़ने वाले एंजेलो मैथ्यूज के स्थान पर श्रीलंका क्रिकेट (एसएलसी) ने आज दिनेश चंदीमल को टेस्ट तथा उपुल थरंगा को सीमित ओवरों के मैचों के लिये कप्तान नियुक्त किया.

जिम्बाब्वे ने हाल में श्रीलंका को उसकी सरजमीं पर पांच मैचों की एकदिवसीय श्रृंखला में 3-2 से हराया जिसके बाद मैथ्यूज की कड़ी आलोचना हो रही थी. उन्होंने इसके बाद कप्तान पद से त्यागपत्र दे दिया था.

एसएलसी प्रमुख तिलंगा सुमतिपाला ने कहा, ‘‘मैथ्यूज ने आज सुबह अपने पद से त्यागपत्र दे दिया. हम पुनर्गठित होकर आगे बढ़ना चाहते हैं. ’’ मैथ्यूज ने हार की जिम्मेदारी ली और कहा कि वह अपना पद इसलिए छोड़ रहे हैं ताकि उनका उत्तराधिकारी विश्व कप 2019 के लिये टीम को तैयार कर सकें.

उन्होंने कहा, ‘‘पहले भी ऐसा समय आया जबकि मुझे लगा कि अपना पद छोड़ देना चाहिए लेकिन तब यह जिम्मेदारी संभालने के लिये तैयार नहीं था. लेकिन मुझे लगा कि यह सही समय है. टीम हित सर्वोपरि हैं. हमारे पास ऐसे खिलाड़ी हैं जो यह जिम्मेदारी निभा सकते हैं. ’’ मैथ्यूज ने 25 साल की उम्र में कप्तानी का दायित्व संभाला था. उनकी अगुवाई में श्रीलंका ने 34 टेस्ट, 98 वनडे और 12 टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेले.

चंदीमल की टेस्ट कप्तान के रूप में पहली परीक्षा जिम्बाब्वे के खिलाफ ही कोलंबो में शुक्रवार से शुरू होने वाला एकमात्र टेस्ट मैच होगा. इसके बाद श्रीलंका को तीन टेस्ट मैचों के लिये भारतीय टीम की मेजबानी करनी है. इस श्रृंखला में पांच एकिदवसीय और एक टी20 मैच भी खेला जाएगा.

चंदीमल ने नयी जिम्मेदारी के बारे में कहा, ‘‘एंजी (मैथ्यूज) ने हमारे लिये जो भूमिका निभायी उसके लिये मैं उनका आभार व्यक्त करता हूं. कप्तान आसान काम नहीं है. वह हमारे लिये मैच विजेता है और मुझे पूरा विश्वास है कि आने वाले वर्षों में भी वह यह भूमिका निभाता रहेगा. ’’

श्रीलंका ने जिम्बाब्वे के खिलाफ पहले टेस्ट मैच के लिये टीम भी घोषित कर दी है. टीम इस प्रकार है : दिनेश चंदीमल (कप्तान), उपुल थरंगा, एंजेलो मैथ्यूज, निरोशन डिकवेला, दिमुथ करूणारत्ने, धनुष्का गुणतिलक, कुसाल मेंडिस, असेला गुणरत्ने, रंगना हेराथ, दिलरूवान परेरा, लक्षण संदाकन, विश्व फर्नांडो, सुरंगा लखमल, दुशमंत चमीरा, लाहिरू कुमार.