रवि शास्‍त्री ही क्‍यों बनेंगे टीम इंडिया के कोच, पढ़िए 5 मजबूत कारण

नई दिल्‍ली : रवि शास्‍त्री ने टीम इंडिया के मुख्‍य कोच के पद पर दावेदारी करने का ऐलान कर दिया है. इस पद के लिए चल रहे अन्‍य नामों के मुकाबले रवि शास्‍त्री की सबसे आगे हैं. पिछली बार शास्त्री इस दौड़ में अनिल कुंबले से पिछड़ गए थे. कोच बनने की दौड़ में उनकी टक्‍कर वीरेंद्र सहवाग और आईपीएल में सनराइजर्स हैदराबाद के कोच टॉम मूडी से है. मीडिया रिपोर्टस के मुता‍बिक सीएसी मेंबर सौरव गांगुली से उनके रिश्‍ते सामान्‍य नहीं हैं. इसके बावजूद दावेदारी के मामले में अभी तक उनके आसपास कोई भी नहीं है. इस बात को पुख्‍ता करते पांच कारण आगे पढ़िए…

और पढ़ें : VIDEO : कपिल देव का बड़ा बयान, रवि शास्त्री में नहीं थी कोई प्रतिभा

कोहली की पसंद
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक शास्‍त्री कोच पद के लिए कप्‍तान विराट कोहली की पसंद बताए जा रहे हैं. विराट ने चैम्पियंस ट्रॉफी से पहले भी रवि शास्‍त्री को कोच बनाए जाने की पैरवी की थी. विराट और रवि शास्‍त्री के अच्‍छे रिश्‍ते किसी से छिपे नहीं हैं.

टीम की कार्यप्रणाली से परिचित
जानकारों के अनुसार यदि बीसीसीआई रवि शास्‍त्री का चयन टीम इंडिया के मुख्य कोच के पद के लिए करती है तो इसका सबसे बड़ा सकारात्‍मक पक्ष यह होगा कि वह टीम इंडिया के सेटअप से अच्‍छी तरह परिचित हैं. टीम को भी उनके साथ सामंजस्य बिठाने में ज्यादा समय नहीं लगेगा. विश्वकप के लिए 2 साल से भी कम का समय बचा है. नए कोच का कार्यकाल 2 साल का होगा जो विश्वकप के बाद समाप्त होगा.

और पढ़ें : क्या अनिल कुंबले के इस्तीफे बाद खुल गए हैं रवि शास्त्री के लिए दरवाजे?

कमजोरियों और मजबूती से वाकिफ
शास्त्री टीम इंडिया का डायरेक्टर रहने से पहले बतौर कमेंटेटर टीम के साथ यात्राएं करते रहे हैं. उनकी बारीक नजर के कारण ही वह टीम के अधिकांश खिलाड़ियों की कमजोरियों और मजूबत पक्ष से वाकिफ हैं. खिलाड़ियों के कमजोर पहलुओं पर काम करने में उन्हें ज्यादा समय नहीं लगेगा.

और पढ़ें : विराट कोहली को मिलेगा मनपसंद कोच! रवि शास्त्री भी करेंगे अप्लाई

सफल रहा अनुभव
शास्‍त्री अगस्‍त 2014 से जून 2016 तक टीम डायरेक्‍टर का पद संभाल चुके हैं. उनके मार्गदर्शन में भारतीय टीम 2015 और 2016 में क्रमश: वनडे और टी 20 वर्ल्‍ड कप में सेमीफाइनल तक पहुंची थी. भारत ने शास्‍त्री की देखरेख में इंग्‍लैंड में 2014 में सीमित ओवरों की सीरीज अपने नाम की थी. श्रीलंका को उसी के घर में हराकर टेस्‍ट सीरीज, जबकि अपनी मेजबानी में दक्षिण अफ्रीका से सीरीज जीती थी. ऑस्‍ट्रेलिया में भारत टी20 सीरीज को शानदार तरीके से जीत चुका है.

कोच पद के लिए इच्‍छुक
रवि शास्‍त्री के करीबी सूत्रों का कहना है कि वह टीम इंडिया के कोच पद के लिए काफी इच्‍छुक हैं. अब नए कोच का चयन दो साल के लिए किया जाएगा. इससे साफ है कि नया कोच दो साल यानी 2019 विश्‍वकप तक रहेगा. अभी से कोच के नाम पर फैसला होने से टीम को उनके मार्गदर्शन में विश्‍वकप की तैयारी करने का अच्‍छा मौका मिलेगा. वह खुद भी बोर्ड के साथ दो साल के अनुबंध के इच्‍छुक हैं.